बस एवं टैक्सी मालिकों का सम्मलेन 22 जून को इंदौर में

0
33

इंदौर:. यात्री परिवहन का व्यवसाय सीधे-सीधे और समाज के ख़ास और आम वर्ग से जुड़ा हुआ है। हर एक व्यक्ति कहीं न कहीं जन परिवहन सेवाओं का लाभ लेता ही है। व्यापार कोई सा भी हो, बदलते वक़्त के साथ तरह – तरह की चुनौतियां आतीं हैं जो अपने साथ संभावनाएं भी लाती हैं, पब्लिक ट्रांसपोर्ट व्यवसाय भी इस से अछूता नहीं है।

चुनौतियों का सामना एकजुट होकर कैसे करें और संभावनाओं को किस नज़रिए से देखें, इस को ध्यान में रखते हुए बस एवं टैक्सी ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ़ एमपी का एक दिवसीय सम्मलेन 22 जून 2019 को ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेण्टर में होने जा रहा है। इसी सम्मलेन में 5 वर्ष पहले बनी एक राष्ट्रीय संस्था बस एंड टैक्सी ऑपरेटर्स कॉनफेडरेशन ऑफ़ इंडिया (BOCI) के दो वर्ष में एक बार होने वाले राष्ट्रीय अधिवेशन ‘प्रवास’ में मध्यप्रदेश के प्रतिनिधित्व और तैयारियों पर भी चर्चा की जायेगी।

बस एवं टैक्सी ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ़ एमपी के पदाधिकारी हरि दुबे, बृजमोहन राठी एवं अनिल भावसार ने 22 जून को होने वाले इस प्रादेशिक सम्मलेन के बारे में बताया कि पैसेंजर्स को मिलने वाली सुविधाओं की बात हो, इंधन के बदलते या लगातार बढ़ती लागत और तेज़ी से घटता मुनाफ़ा हो, पढ़े – लिखे, पेशेवर और प्रशिक्षित ड्राइवर्स की समस्या हो या सड़क पर होने वाली छोटी बड़ी दुर्घटनाएं, पब्लिक ट्रांसपोर्ट व्यवसाय ऐसी कई समस्याओं से लगातार जूझता रहा है और कठिनाइयों का दौर सतत जारी है. परन्तु इन्हीं कठिनाइयों के साथ साथ हमें अपने व्यवसाय को अगले स्तर पर ले जाने के मौके भी मिलते हैं। इन्ही सबके मद्देनज़र हम अपना एक दिवसीय सम्मलेन 22 जून 2019 को ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेण्टर में करने जा रहे हैं।

मध्य प्रदेश में यह पहली बार है कि इतने बड़े पैमाने पर पब्लिक ट्रांसपोर्ट व्यवसायी एकत्रित हो रहे हैं। हमें उम्मीद है कि 500 से ज्यादा सदस्य इस में शामिल होंगे ।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि-संस्था के चैयरमेन श्री के टी राजशेखर, (एस.आर.एस ट्रेवल्स, बेंगलुरु) और संस्था के प्रेसिडेंट प्रसन्न पटवर्द्धन (पर्पल मोबिलिटी एवं प्रसन्न ट्रेवल्स, पुणे) होंगे. साथ ही हम प्रदेश के ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर को आमंत्रित कर चुके हैं। चाहते हैं कि वे हमारे कार्यक्रम में आकर हमारा गौरव बढायें और हमें उनसे सीधे संवाद करने का मौक़ा मिल सके।

कुछ महत्त्वपूर्ण बिंदु जिन पर सम्मलेन में चर्चा होगी:

  • आज के प्रगतिशील समय में जैसे दुसरे सेक्टर प्रगति कर रहे हैं वैसे ही पब्लिक ट्रांसपोर्ट व्यवसाय भी प्रगति करे इस पर बात करना।
  • हम जहाँ हैं, वहाँ से आगे कितना लंबा सफ़र साथ मिलकर तय करना है। इस पर विचार करना क्योंकि, हम अपने निकटतम देश चीन से कम से कम 10 गुना पीछे हैं। आज जिस जगह पर हम खड़े है उससे कम से कम 10 गुना आगे हमें जाना है।
  • सरकार के साथ समन्वय पर यानि पब्लिक ट्रांसपोर्ट व्यवसायी सरकार से क्या अपेक्षा रखते हैं, और दूसरी और सरकार उनसे क्या चाहती है।
  • इस व्यवसाय में कई प्रकार की टूरिस्ट बसें, नगर परिवहन , स्कूल- कॉलेज, शादी, पिकनिक, धार्मिक/ तीर्थ यात्राओं, इवेंट के लिए कॉन्ट्रैक्ट कैरिज ऑपरेटर्स, टूर बस ऑपरेटर, इंटर स्टेट बस ऑपरेटर, टैक्सी ओनर्स और अन्य कई प्रकार की बसें हैं जिनकी बहुत सारी सामान्य समस्याएं / परेशानियां है, उन समस्याओं को सरकार के सामने रखकर उसे दूर करना।
  • समूचे विश्व में पब्लिक ट्रांसपोर्ट को सरकारें मदद कर रही हैं। छोटे वाहनों से ज्यादा पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन का उपयोग दुनिया भर में हो रहा है। हमारी प्रदेश की और देश की भी सरकारें यही चाहती है कि पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन बढ़े।
  • हमारे पास बहुत बड़ी चुनौती ईंधन की है, जो वैसे भी हमारे पास कम मात्रा में है और आयात करने के कारण तुलनात्मक रूप से बहुत महँगा भी है।
  • सरकार चाहती है कि कम से कम प्रदूषण हो, हमने अपनी समझ तैयार नहीं की और अपने प्रयासों को सही तरीके से सही दिशा में आगे नहीं बढ़ाया तो हमारी आने वाली पीढ़ी प्रदुषण से बहुत परेशान होगी।
  • पूरे प्रदेश के सारे जिलों से आगामी ‘प्रवास’ कार्यक्रम में भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों का प्रतिनिधित्व हो।
  • यात्रियों में इस व्यवसाय और इससे जुड़े लोगों, चालक व परिचालकों के प्रति नकारात्मक छवि है, उसे कैसे सुधारा जाये, इस पर चर्चा होगी।
  • इस व्यवसाय में नई टेक्नोलॉजी आ रही है तो यह समस्याएं धीरे-धीरे दूर होगी और हमारा भी यह प्रयास है की हम ड्राईवर और कंडक्टर को प्रशिक्षित करें एवं उनके व्यवहार में सुधार हो इस दिशा में हम कार्य करने की सोच रहे हैं।
  • पब्लिक ट्रांसपोर्ट व्यवसाय सीधा जनता से जुड़ा है तो आज के समय के अनुसार, पैसेंजर्स को हमसे क्या उम्मीदें हैं। इस पर भी चर्चा की जायेगी, हम उन्हें कैसे बेहतर सुविधा प्रदान कर सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here