Breaking News

सरकार बदलती है तेवर वही, वरिष्ठ पत्रकार अशोक वानखेड़े की टिप्पणी

Posted on: 02 Jun 2018 06:34 by krishna chandrawat
सरकार बदलती है तेवर वही, वरिष्ठ पत्रकार अशोक वानखेड़े की टिप्पणी

हमें अक्सर सुनने में आता है मारने वाले से बचाने वाला बड़ा होता है और इस वीरता के लिए उसे इनाम भी दिया जाता है। लेकिन उत्तराखंड में यह बात गलत साबित हुई है। यहां एक नौजवान को अपनी जान की बाजी लगाकर बचाने वाले पुलिस इंस्पेक्टर को प्रशासन ने जबरन कुछ दिनों की छुट्टी पर भेज दिया है।

आपको बता दे की कुछ दिन पहले लव जिहाद के नाम पर एक युवक को कुछ हिन्दू संगठन के लोगो ने घेर लिया था और उसे जान से मारने पर उतारू हो गए थे।लेकिन उत्तराखंड के पुलिस इंस्पेक्टर गगनदीप ने बिना किसी की परवाह किए उस युवक को आक्रोशित भीड़ से सही सलामत निकला।

इस जाबांज इंस्पेक्टर को प्रशासन ने सम्मानित करने की बजाय, उसे कुछ दिनों की छुट्टी पर भेज दिया। जब पुलिस के अफसरों से इसका कारण जानना चाहा तो उन्होंने कहा कि गगनदीप को एकाएक पब्लिसिटी मिली है। और उन्हें कुछ दिनों के लिए आराम की जरुरत है। इसके लिए उन्हें अचानक छुट्टी दी है।

लेकिन सूत्रों के मुताबिक प्रशासन ने हिन्दूवादी संगठनों के आगे घुटने टेक दिए है, और उस इंस्पेक्टर को छुट्टी पर भेज दिया है।

लेकिन सवाल यह है कि आखिर कब तक चलेगी सरकार उग्र हिंदूवादी संगठनों के इशारे पर? क्या उस अधिकारी के साथ न्याय होगा, जो समाज उसको हीरो मानता है? क्या उसे सम्मान दिलवाएगा ?  इन सवालों  के जवाब जानने के लिए देखिए वरिष्ठ पत्रकार अशोक वानखेड़े की टिप्पणी।

 

 

 

 

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com