इंदौर : मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में पिछले साल हुए किसान आंदोलन में पुलिस की गोली से शहीद किसानों के परिवार को धमकाने का मामला सामने आया है। आपको बता दे मंदसौर गोली कांड में 6 लोग  शहीद हुए थे।

सूत्रों के मुताबिक मंदसौर के एसडीएम ने पुलिस की गोली से शहीद किसान अभिषेक पाटीदार के बड़े भाई संदीप पाटीदार को फ़ोन पर धमकी दी कि तुम्हारे माता पिता किसी भी हालत में 6 जून को राहुल गांधी की प्रस्तावित रैली में नहीं जाने चाहिए।

इसके पहले सरकार ने शहीद के दूसरे भाई मधुसुदन से भी 25000 का बॉन्ड भरने को कहा था कि वो राहुल की रैली में नहीं जाए। हालांकि सरकार ने बॉन्ड भरवाने की गलती को माना और माफ़ी मांगकर आदेश वापस लिया था।

आपको बता दे कि सरकार के तमाम प्रयासों के बावजूद अभिषेक के पिता राहुल गांधी की रैली में शामिल हुए थे और उन्होंने कहा कि मुझे राजनीतिक सरोकार से कोई लेना देना नहीं है।

किसान आंदोलन से बौखलाई सरकार इस हथकंडे में उतर आएगी यह किसानों ने भी नहीं सोचा था। क्या सरकार किसानों की आवाज दबा पाएगी ? क्या सरकार के पास दमन करने के सिवा और कोई रास्ता नहीं ? क्या इससे किसानों की समस्या का हल होगा ? इन तमाम सवालों के जवाब जानने के लिए देखिए वरिष्ठ पत्रकार अशोक वानखेड़े की टिप्पणी।

LEAVE A REPLY