भाजपा दफ्तार पहुंची ममता बनर्जी, खुद पेंट किया पार्टी का नाम और निशान

0
11
mamata banerjee

कोलकता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ओर भाजपा के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। चुनावों मे टीएमसी को मिली हार के बाद उसके जख्मों पर नमक छिड़कने के लिए भाजपा ने ममता बनर्जी को ‘जय श्री राम’ लिखे पोस्टकार्ड भेजे तो अब वहीं अब दोनों के बीच एक-दूसरे के पार्टी दफ्तरों पर कब्जा करने की मारामारी शुरू हो गई है।

ममता बनर्जी खुद उत्तर 24 परगना जिले में बीजेपी दफ्तर का ताला तोड़ने पहुंच गई। टीएमसी ने दावा किया कि ये उसका दफ्तर है जिस पर भाजपा ने कब्जा कर लिया था। मामला 30 मई का बताया जा रहा है जब मोदी दिल्ली में अपनी कैबिनेट के साथ पद और गोपनीयता की शपथ ले रहे थे।

ये है मामला

दरअसल, जब मोदी प्रधानमंत्री पद की शपथ ले रहे थे तो ममता बनर्जी उत्तर 24 परगना जिले में धरने पर बैठी थी। नैहाटी में रैली को संबोधित करने के बाद ममता सीधे बीजेपी के दफ्तर पर पहुंचीं और ताले तुड़वाए। ममता के आदेश पर ऑफिस से भगवा रंग और कमल का निशान हटाया गया।

खुद बनाया पार्टी का चिन्ह

भाजपा दफ्तर पर कब्जा करने के बाद ममता बनर्जी ने सफेदी पोतवाई। इसके बाद खुद दीवार पर भाजपा के चिन्ह की जगह अपनी पार्टी का चिन्ह पेंट किया और पार्टी का नाम भी लिखा। ममता का आरोप है कि टीएमसी के इस दफ्तर पर बीजेपी ने कब्जा कर लिया था।

‘जय श्री राम’ पर जंग

बंगाल में जय श्री राम पर भी जबरदस्त सियासत चल रही है। भाजपा ममता बनर्जी को आक्रामक तरीके से घेरने में जुटी हुई है। दीदी जब से जय श्री राम के नारों पर भड़की तब से बैठे-बिठाए भाजपा को ये मौका मिल गया। हालांकि, ममता का कहना है कि जय श्रीराम से मुझे कोई दिक्कत नहीं है, बीजेपी इसका सियासी फायदा उठा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here