Breaking News

चीन ने चौथी बार डाला अड़ंगा, फिर बच निकला आतंकी मसूद China will put it for the fourth time, then Terrorist Masood escapes

Posted on: 14 Mar 2019 08:18 by Pawan Yadav
चीन ने चौथी बार डाला अड़ंगा, फिर बच निकला आतंकी मसूद  China will put it for the fourth time, then Terrorist Masood escapes

पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने में चीन ने एक बार फिर रूकावट डाल दी है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की ‘‘1267 अल कायदा सैंक्शन्स कमेटी’’ के तहत अजहर को आतंकवादी घोषित करने का प्रस्ताव 27 फरवरी को फ्रांस, ब्रिटेन और अमेरिका ने लाया था। प्रस्ताव आने के 10 दिन में आपत्ति मांगी गई थी।

इस पर चीन ने आपत्ति जताते हुए भारत से आतंकी मसूद के खिलाफ सबूत देने की मांग कर दी, बल्कि प्रस्ताव की पड़ताल करने के लिए समय भी मांग लिया। इससे यह मामला करीब 6 महीने तक खींचा गया है। गौरतलब है कि 10 साल में संयुक्त राष्ट्र में अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित कराने का यह चौथा प्रस्ताव था।

अमेरिका बोला, मसूद को ग्लोबल आतंकी घोषित करो

इससे पहले पुलवामा आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। इसके बाद आतंकी सरगना मसूद अजहर पर शिकंजा कसने के लिए भारत ने कूटनीतिक दबाव बनाया। इसका असर भी दिखाई दिया। 13 मार्च को संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा समिति की बैठक होने वाली है, जिसमें आतंकी मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित किया जा सकता है।

इससे पहले चीन ने भारत से आतंकी मसूद के खिलाफ सबूत देने की मांग कर डाली। हालांकि आतंक के खिलाफ की जा रही कार्रवाई का अमेरिका ने समर्थन किया है। अमेरिका ने भारत का साथ देते हुए सुरक्षा परिषद से कहा कि आतंकी मसूद को ग्लोबल आतंकी घोषित किया जाए। अमेरिका का कहना है कि आतंकी मसूद अजहर का खुलेआम घूमना भारतीय उपमहाद्वीप की शांति के लिए खतरा है। अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता के कहना है कि अमेरिका और चीन इस बात पर सहमत हैं कि क्षेत्र में शांति स्थापित होनी चाहिए। अगर जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर पर बैन नहीं लगता है कि शांति का मिशन फेल हो सकता है।

Read More : LOC पर दिखे पाक लड़ाकू विमान, वायुसेना का हाई अलर्ट

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com