विद्याधाम में कुछ ऐसे मनाया बाल दिवस, कहानी सुनाकर बच्चों को दी सीख

0
26

इंदौर। शहर में बाल दिवस की शुरुआत कुछ अलग अंदाज में हुई। जिसमे विद्याधाम में 80 बटुक बाल पंडित और कृष्णा गुरुजी के शामिल हुए। मानव सेवा से सभी त्योहारों को जोड़ने का तरीका बताते हुए बाल बटुकों को कहानियां भी सुनाई। कार्यक्रम राष्ट्र के नाम तीन बार ओंकार नाद से शुरू हुआ जिसके बाद राष्ट्र गान गाया। कार्यक्रम में आचार्य उमेश और अन्य विद्या धाम के लोग भी मौजद रहे।

इसके साथ ही विश्व में शांती बनी रहे उसके लिए वेदों में लिखे मंत्रों का नाद किया गया। कार्यक्रम के दौरान सभी बच्चों में एक अलग ही ऊर्जा थी। बाल बटुकों को बाल्य ध्यान करा कर गाँधी जी के तीन बंदर बुरा मत देखो बुरा मत सुनो बुरा मत कहो के ज्ञान को सूक्ष्म शरीर की शुद्धि का तरीका बताया। साथ ही कार्यक्रम में नेहरू जी के बारे में भी संज्ञान दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here