पीथमपुर में विकसित इस पार्क का ई-लोकार्पण करेंगे मुख्यमंत्री कमलनाथ

0
22
cm kamalnath

इंदौर: मध्यप्रदेश में औद्योगिक विकास के लिये निरंतर कारगर प्रयास किये जा रहे हैं। इसी सिलसिले में मध्यप्रदेश में उदयोगों के लिये अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त स्मार्ट इंडस्ट्रीयल पार्क के रूप में बड़ी सौगात मिलने जा रही है। मैग्निफिसेंट एमपी कार्यक्रम की पूर्व संध्या पर 17 अक्टूबर को मुख्यमंत्री कमलनाथ पीथमपुर में विकसित इस स्मार्ट इंडस्ट्रीयल पार्क का इंदौर में ई-लोकार्पण करेंगे। इस पार्क में उद्योगों के लिये विभिन्न आधुनिक तथा बुनियादी सुविधाएं हैं।

बताया गया है कि यह मध्यप्रदेश की पहली एकीकृत इण्डस्ट्रीयल टाउनशिप है, जिसमें लगभग 262 हेक्टर भूमि उद्योग हेतु आरक्षित है। इसके अतिरिक्त आवासीय, व्यावसायिक, स्कूल, कॉलेज, अस्पताल, आई.टी. इत्यादि के लिये भी भूखण्ड आरक्षित किये गये हैं। इस औद्योगिक पार्क में अधोसंरचना पर विशेष ध्यान दिया गया है। इस पार्क की लोकप्रियता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि वर्तमान में 25 उद्योगों हेतु उनके द्वारा भूमि आवंटन करा ली गई है। साथ ही 11 उद्योगों के लिए आवंटन प्रक्रियाधीन है। इस औद्योगिक पार्क में लगभग 60 औद्योगिक इकाईयों की स्थापना होकर दस हजार करोड़ रूपये का निवेश एवं 15 हजार से अधिक व्यक्तियों को सीधा रोजगार मिलना संभावित है।

राज्य शासन द्वारा नेशनल ऑटो टेस्टिंग ट्रेक के निर्माण हेतु भारत शासन को 1600 हेक्टर भूमि अधिग्रहित कर पीथमपुर के समीप उपलब्ध कराई गई थी। पीथमपुर में औद्योगिक भूमि की बढ़ती मांग के मद्देनज़र राज्य शासन द्वारा भारत शासन से 478.307 हेक्टर भूमि वापस प्राप्त की गई तथा उस पर केबिनेट के अनुमोदन से एक इंटीग्रेटेड़ इण्डस्ट्रीयल टाउनशिप के निर्माण का निर्णय लिया गया। उक्त परियोजना के विकास हेतु राज्य शासन द्वारा 373 करोड़ रूपये की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की गई तथा निर्माण एजेंसी को कार्यादेश दिया गया। इस स्मार्ट इंडस्ट्रीयल पार्क में अधोसंरचना के अंतर्गत जो सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है, उनमें प्रमुख रूप से 30 मीटर से 45 मीटर की चौड़ाई तक की सड़कें,24×7 नर्मदा-क्षिप्रा लिंक परियोजना से जलप्रदाय सुविधा,स्ट्रॉम वॉटर ड्रेन, सीवर लाईन, एस.टी.पी. तथा यूटिलिटी डक्ट,132 के.व्ही. का एक सबस्टेशन तथा 33 के.व्ही. के 2 सबस्टेशन,पूरे औद्योगिक परिक्षेत्र में एक लाख से अधिक पौधों के वृक्षारोपण का लक्ष्य,संपूर्ण औद्योगिक परिक्षेत्र बाउण्ड्रीवाल से सुरक्षित है तथा प्रवेश एवं निकास पर एक्सेस कंट्रोल,10 हेक्टेयर का लॉजिस्टिक हब,फायर स्टेशन की सुविधा,यहां कार्यरत महिलाओं हेतु हॉस्टल की सुविधा आदि शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here