चीफ जस्टिस रंजन गोगोई तीन दिन में सुना सकते हैं ये चार अहम फैसले, 17 को होंगे रिटायर

0
97
ranjan gogoi

नई दिल्ली। 500 साल पुराने अयोध्या विवाद पर ऐतिहासिक फैसला सुनाने वाले चीफ जस्टिस रंजन गोगोई आने वाले तीन दिनों में कई और अहम फैसले सुना सकते हैं, जो देश की राजनीति और सुरक्षा को लेकर महत्वपूर्ण है। गौरतलब है कि चीफ जस्टिस 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं और उन्हें रिटायर होने से पहले अपनी सुनवाई के सभी मामलों में फैसला सुनाना है। अब स्थिति यह बन रही है कि 16 और 17 नवंबर को शनिवार व रविवार का अवकाश है। ऐसे में चीफ जस्टिस को सुनवाई के सिर्फ तीन दिन 13, 14, 15 नवंबर ही मिलेंगे।

Suprime Court

इन फैसलों में राफेल मामले में पिछले साल 14 दिसंबर को दिए सुप्रीम कोर्ट के निर्णय की पुनर्विचार की मांग के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा व अरुण शौरी समेत कई अन्य लोगों की तरफ से दाखिल याचिका पर निर्णय लेना है। वहीं राफेल मामले पर सुप्रीम कोर्ट के पुराने फैसले को लेकर चुनावी दिनों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ ‘चैकीदार चोर है’ के नारे का इस्तेमाल करने के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ दाखिल सुप्रीम कोर्ट की अवमानना याचिका पर निर्णय देना है।

इसके अलावा केरल के सबरीमाला मंदिर में हर आयु की लड़कियों और महिलाओं को प्रवेश दिए जाने के सुप्रीम कोर्ट के 29 सितंबर 2018 के फैसले की दोबारा समीक्षा के लिए दाखिल याचिकाओं पर फैसला सुनाना होगा। वहीं दिल्ली हाईकोर्ट की तरफ से सीजेआई ऑफिस को सूचना अधिकार कानून के दायरे में लाने के आदेश के खिलाफ 2010 में सुप्रीम कोर्ट के सेक्रेटरी जनरल व सेंट्रल पब्लिक इंफार्मेशन ऑफिसर की तरफ से दाखिल तीन याचिकाओं पर चार अप्रैल को सुरक्षित रखे गए निर्णय देना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here