छत्तीसगढ़ में चढ़ेगा धर्म की राजनीति का चुनावी पारा

0
14

छत्तीसगढ़ की सियासत में अब तक धर्म एजेंडे में नहीं रहता था लेकिन इस बार छत्तीसगढ़ में भी यह प्रयोग शुरू हो गया है, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मंदिरों से लेकर विभिन्न धर्म गुरुओं से मिल रहे हैं।

 

इसके पहले बीजेपी के शाह कबीरपंथी धर्मगुरु प्रकाशमुनि, सिंधी समाज के धर्मगुरु युधिष्ठिर महाराज और सतनामी समाज के धर्मगुरु बालदास से मिल चुके हैं। अपने पिछले दौरे में वे गुजराती समाज के सम्मेलन में शामिल हुए थे।

 

इसी बीच कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी हिंदुत्व की राजनीति में नए उतरे हैं, गुजरात के बाद उन्हें मध्यप्रदेश और राजस्थान के कई मंदिरों में जाते देखा गया है, छत्तीसगढ़ में भी उनका मंदिरों की चौखट पर जाना लगभग तय माना जा रहा है ,

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के सुप्रीमो अजीत जोगी ने अपनी विजय यात्रा की शुरुआत रायपुर के रावांभाठा स्थित बंजारी मंदिर में मत्था टेककर की थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here