छत्तीसगढ़: नक्सलीयों के खौफ में नेता, नहीं कर पा रहे प्रचार

0
14
Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ में लगातार नक्सलियों के हमले का प्रभाव अब अगामी विधानसभा के चुनाव पर पड़ रहा है। बस्तर इलाके में जहां चुनाव की तैयारी अपने चरम पर है। वहीं नेताओं को धम​किया मिल रही हैै। जिससे राजनीतिक दल के कार्यकर्ता अपना प्रचार भीतरी इलाकों में करने से डर रहे है। उन्हें धमकीया मिल रही है कि कार्यकर्ता अगर अंदर आए तो उन्हें जान से मार दिया जाएगा।

अब अगर ऐसे ही कार्यकताओं को धमकी मिलती रही तो चुनाव प्रचार पर भी बहुत बुरा प्रभाव पड़ेगा। वहीं इससे मतदान के दिन भी बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसका सीधा नतीजा है। बीजापुर सुकमा दंतेव़ाड़ा और नारायणपुर सहित संभाग के सातों जिलों में राजनीतिक कार्यकताओं का प्रचार अब कस्बाई इलाकों तक ही सीमित रह गया है। अब ना ही वह किसी पार्टी के झंडे और ना ही पंपलेट बांट रहे हैं।

वहीं, दूसरी ओर राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता ग्रामीण इलाकों तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। ऐसे में उन्हें भी यह डर है कि कहीं उन पर नक्सली हमला ना हो जाए। बीजापुर के अंदरूनी इलाकों में कार्यकर्ता जाने से डर रहे हैं. वही सुकमा और दंतेवाड़ा सहित संवेदनशील क्षेत्रों में अमूमन स्थिति यही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here