Breaking News

विजयवर्गीय का आरोप – बंगाल में हिंसा के लिए सीएम ममता जिम्मेदार | Charge of Kailash Vijayvargiya CM Mamata Banerjee responsible for Violence in West Bengal

Posted on: 10 Jun 2019 18:34 by bharat prajapat
विजयवर्गीय का आरोप – बंगाल में हिंसा के लिए सीएम ममता जिम्मेदार | Charge of Kailash Vijayvargiya CM Mamata Banerjee responsible for Violence in West Bengal

बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव और बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने बंगाल में हो रही हिंसा को लेकर बड़ा बयान दिया है। विजयवर्गीय ने कहा कि अगर पश्चिम बंगाल में हिंसा जारी रही तो हम केंद्र सरकार से धारा 356 लगाने की मांग करेंगे। इसके अलावा उन्होंने बंगाल में हो रही हिंसा के लिए ममता बनर्जी को जिम्मेदार ठहराया है।

बीजेपी नेता ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान ममता बनर्जी पर तंज कसते हुए कहा कि ‘पश्चिम बंगाल में हो रही लगातार हिंसा के लिए ममता बनर्जी जिम्मेदार हैं। वह लोगों को भड़का रही है और अपने कार्यकर्ताओं से कह रही है कि जिस बूथ से बीजेपी जीती है वहां उसके कार्यकर्ताओं को नेस्तनाबूद कर दो।’ उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में हिंसा की जिम्मेदारी टीएमसी गुंडों की है क्योंकि वह नहीं चाह रहे हैं कि बीजेपी सत्ता में आए।

बंगाल प्रभारी विजयवर्गीय का कहना है कि ‘आज पश्चिम बंगाल जिस दिशा में बढ़ रहा है ममता बनर्जी जैसा व्यवहार कर रही हैं उसे देखकर हमें आगे की रणनीति पर सोचना पड़ेगा। अगर बंगाल में इसी प्रकार से हिंसा होती रही तो हम केंद्र सरकार से हस्तक्षेप की मांग करेंगे। हो सकता है कि धारा 356 भी लागू हो लेकिन हम इसका समर्थन नहीं करते हैं अभी बीजेपी राष्ट्रपति शासन का समर्थन नहीं कर रही लेकिन अगर हिंसा बढ़ती रहेगी तो फिर जरूर करेंगे।’

गौरतलब है कि इससे पहले केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने ममता सरकार को एडवाइजरी जारी कर ममता सरकार से राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने की बात कही थी। एडवाइजरी में कहा गया था कि राज्य में लोकसभ चुनाव के दौरान से शुरू हुई हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है।

वहीं इसके जवाब में ममता सरकार की ओर से एडवाइजरी को राज्य सरकार के कार्यों में अनावश्यक हस्तक्षेप बताया गयाथा। ममता सरकार में मंत्री पार्थ चटर्जी का कहना है कि हिंसा के पीछे बीजेपी का हाथ है और वह प्रदेश में हिंसा के बल पर अपने पांव जमा रही है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com