Breaking News

रघुराम राजन का असली चेहरा भारत को तबाह करने वाली अर्थव्यवस्था पैदा करने वाले का चेहरा है। Raghuram Rajan’s real face is the face of the person who creates an economy that destroys India

Posted on: 04 Apr 2019 12:31 by shivani Rathore
रघुराम राजन का असली चेहरा भारत को तबाह करने वाली अर्थव्यवस्था पैदा करने वाले का चेहरा है। Raghuram Rajan’s real face is the face of the person who creates an economy that destroys India

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया RBI के पूर्व गवर्नर आजकल अपनी किताब को लॉन्च और प्रमोट करने मुंबई में पाए जाते हैं। इन्हीं परम् प्रतापी रघुराम राजन के कार्यकाल में भारतीय सरकारी बैंकों की 83% पूंजी कांग्रेस ने अपने करीबियों को कमीशन खाकर लोन के रूप में बांट दी थी। जो कुल मिलाकर 34 लाख करोड़ रुपए थी।

Read more : आरबीआई ने रेपो रेट में की कटौती, कम हो सकती है EMI

यह वही महान विभूति रघुराम राजन है जो कांग्रेस के अंतिम दिनों में चिदम्बरम संग मिलकर गोल्ड एक्सचेंज की 80:20 स्कीम लेकर आए थे।जिससे भारतीय अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान हुआ, परंतु नीरव मोदी-मेहुल चौकसी जैसे ज्वेलरी कारोबारियों को अनुचित रूप से लाभ पहुंचाया गया। इनके प्रथम कार्यकाल की समाप्ति पर जब नरेंद्र मोदी(PMNarendraModi) द्वारा इन्हें RBI गवर्नर का दूसरा कार्यकाल नहीं दिया गया, तब सभी बुद्धिजीवियों, कांग्रेसियों, वामपंथीयों, झोलाछाप अर्थशास्त्रियों व विभिन्न बिजनेस चैनल के एंकर और एडिटरों ने विलाप कर ऐसा माहौल बना दिया था  कि अब इनके बिना तो इंडियन स्टॉक मार्केट ही कोलैप्स कर जाएगा।

जबकि हुआ उसके ठीक उलट।जिस दिन इनका कार्यकाल समाप्त हुआ उसी दिन निफ्टी ने डेढ़ सौ पॉइंट्स की छलांग लगाई थी, रघुराम राजन ने सीएनबीसी tv 18 से बात करते हुए भारत की 7% से बढ़ रही अर्थव्यवस्था के आंकड़ों पर भी बिना तथ्यों साक्ष्यों और सबूतों के प्रश्न चिन्ह लगाए हैं। बढ़ते हुए राष्ट्रवाद को अर्थव्यवस्था के लिए एक खतरा बताया और RSS के प्रति अपनी नफरत उजागर की।

Read more : संपत्ति के मामले में नंबर वन नहीं है अमित शाह

नरेंद्र मोदी जब किसानों के लिए ₹6000 की डायरेक्ट बेनिफिट स्कीम लाए तो उन्होंने उसे अर्थव्यवस्था के लिए तबाह करने वाला कदम बताया। अब यही रघुराम राजन कांग्रेस की न्याय योजना को अपनी बता रहे हैं। और खुलकर तारीफ कर रहे हैं। दरअसल, श्री राजन राज्यसभा(Rajyasabha) में जाने और अगला वित्त मंत्री बनने के सपने देख रहे हैं।

राधेश्याम बियानी महू की कलम से_________

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com