Breaking News

मुंबई ब्रिज हादसा: अब तक 6 की मौत, चीफ इंजीनियर समेत दो निलंबित

Posted on: 15 Mar 2019 08:02 by Rakesh Saini
मुंबई ब्रिज हादसा: अब तक 6 की मौत, चीफ इंजीनियर समेत दो निलंबित

मुंबई के सीएसटी रेलवे स्टेशन के पास फुटओवर ब्रिज गिरने से बड़ा हादसा हो गया है। इस हादसे में दो महिलाओं समेत 6 लोगों की मौत हो गई है। एक दिन बाद ही शुक्रवार को BMC ने पहली कार्रवाई की है। चीफ इंजीनियर (पुल) एसओ कोरी और डिप्टी चीफ इंजीनियर आरबी तारे की जांच रिपोर्ट के आधार पर चीफ इंजीनियर एआर पाटिल और एसिस्टेंट इंजीनियर एस एफ ककुलते को सस्पेंड कर दिया गया है। मुंबई पुलिस ने बताया कि इस हादसे में 34 लोग घायल हो गए हैं, घायलों को सेंट जॉर्ज और जीटी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।  यह ब्रिज सीएसटी रेलवे स्टेशन से जुड़ता हैै। मलबे से 7 से 8 लोगों को निकाला गया है। बता दें सीएसटी रेलवे स्टेशन जाना माना स्टेशन है। ये ब्रिज आजाद मैदान को सीएसटी रेलवे स्टेशन से जोड़ता है। इस हादसे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दुख जताया है और सभी मृतकों के प्रति संवदेनाएं प्रकट की।

बता दें सीएसटी रेलवे स्टेशन जाना माना स्टेशन है। ये ब्रिज आजाद मैदान को सीएसटी रेलवे स्टेशन को जोड़ता है।

Mumbai-Footover-Bridge

जानकारी के मुताबिक जब ब्रिज गिरा था तो वहां पर कई लोग मौजूद थे। इसके अलावा कई गाड़ियां भी ब्रिज के नीचे वहां मौजूद थीं। प्लेटफॉर्म 1 बीटी लेन के पास ब्रिज गिरा है।

खबरों के अनुसार अब भी 15 लोग ब्रिज के मलबे में दबे हुए है। इन्हें निकालने के लिए NDRF की टीम घटनास्थल के लिए रवाना हो गई है। मध्य रेलवे के पीआरओ एके जैन ने कहा कि CSMT स्टेशन के बाहर बने फुटओवर ब्रिज का एक हिस्सा गिर गया है। यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। हालांकि यह रेलवे का फुटओवर ब्रिज नहीं है। यह पब्लिक फुटओवर ब्रिज है। इस हादसे से रेलवे ट्रैफिक प्रभावित नहीं हुआ है।

रेल मंत्री ने जताया दुख

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इस हादसे पर दुख जताया है. उन्होंने कहा कि घटनास्थल पर रेलवे बीएमसी की मदद कर रहा है. मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ है.

राज्य सरकार कराएगी घायलो का इलाजमहाराष्ट्र सरकार में मंत्री विनोद तावडे ने कहा कि घायलों का इलाज राज्य सरकार कराएगी। उन्होंने कहा कि पुल का एक स्लैब ढह गया था। रेलवे और बीएमसी इसके रखरखाव की जांच करेंगे। ब्रिज खराब स्थिति में नहीं था, इसके लिए मामूली मरम्मत की आवश्यकता थी, जिसके लिए काम चल रहा था। काम पूरा होने तक इसे बंद क्यों नहीं किया गया, इसकी भी जांच की जाएगी।

Read More:- VVPAT से 50% पर्चियों के मिलान की मांग, विपक्ष के 21 नेता पहुंचे SC| Opposition PARTI Election Commission Supreme Court EVM VVPAT

 

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com