राफेल केस में बहुत बड़ा खुलासा | Big Reveals in the Rafael Case

0
81
rafale

कैलाश सरन की वाल से

एक बड़ा सवाल था कि चौकीदार ने 580 करोड़ के राफेल के 1640 करोड़ प्रति विमान के क्यों दिए ? आज ही फ्रेंच अखबार लेमोंदे ने बताया है कि अनिल अम्बानी के फ्रेंच सरकार ने 143.7 करोड़ यूरो यानि लगभग ग्यारह हज़ार करोड़ रु की टैक्स माफ़ी इसी शर्त पर की थी कि इंडियन गवर्नमेंट 36 राफेल 128 राफेल के कुल दाम में खरीदेगी और साथ में इस पर टैक्स जुड़ेगा इसीलिए राफेल की कीमत तीन गुना बढ़ गयी।

इस इनवेस्टिगेटिव रिपोर्ट के अनुसार अनिल अम्बानी की एक टेलिकॉम कंपनी फ्रांस में रजिस्टर्ड है और 2007 से 2012 के बीच जांच की गयी और कुल 153 करोड़ यूरो की चोरी पकड़ी थी। जिस पर अम्बानी ने सत्तर लाख यूरो देने का प्रस्ताव दिया पर उस वक़्त वहां सरकार ने नहीं माना और 2015 तक मामला खींचता रहा। बाद में जब राफेल डील हुई तो इसका सेटलमेंट किया गया और फ्रेंच सरकार ने सत्तर लाख यूरो ले मामला सेटल कर दिया।

पर अब यह ध्यान रखिये की फ्रांस में इसका खुलासा होने के बाद वहां का आर्थिक अपराध शाखा और प्रवर्तन शाखा स्वतंत्र जांच करेगी और इसमें होल्लान्दे और वर्तमान राष्ट्रपति दोनों के फंसने के चांस है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here