दिवाली से पहले चायनीज पटाखों पर बैन, बेचने-जलाने पर होगी सजा

0
37
crackers

नई दिल्ली। केन्द्र सरकार ने दिवाली से पहले चायनीज पटाखों पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है। सोमवार को कस्टम विभाग के प्रिंसिपल कमिश्नर ने इसको लकर एक नोटिस भी जारी किया है जिसमें स्पष्ट रूप से कहा गया है कि चायनिज पटाखों के आयात पर पूरी तरह से बैन है। ऐसे में कोई भी इन पटाखों को रखता है, बेचता है या फिर किसी तरह से इसकी डील करता है तो उन्हें कस्टम एक्ट 1962 के तहत सजा दी जाएगी।

केन्द्र सरकार ने नोटिस में कहा है कि चाइनीज पटाखों के आयात और भारतीय बाजार में इनका उपयोग चिंताजनक है। इन पटाखों के आयात पर प्रतिबंध है और अगर कोई व्यक्ति इन्हे रख्ता है तो उन्हें कस्टम एक्ट के तहत दंडित किया जा सकता है। नोटिस साफ किया गया है कि चाइनीज पटाखों का उपयोग सरकार के एक्सप्लोजिव रूल्स 2008 के खिलाफ है और यह हानिकारक है। इन पटाखों में लेड, कॉपर, ऑक्साइड और लीथियम जैसे प्रतिबंधित केमिकल्स का उपयोग होता है। जो इंसानों के साथ-साथ पर्यावरण के लिए भी हानिकारक हैं।

ऐसे में लोगों को पटाखों की लेबलिंग डिटेल्स देखकर ही खरीदारने की सलाह दी गई है। वहीं यदि किसी आम नागरिक के पास इस तरह के पटाखों की बिक्री संबंधित जानकारी है तो वह चेन्नई कस्टम कंट्रोल रूम के टेलीफोन नंबर 044-25246800 पर कॉल कर जानकारी दे सकते हैं।

गौरतलब है कि सरकार ने इसी साल ग्रीन पटाखे जारी किए है। जिसमें अनार, पेंसिल, चकरी, फुलझड़ी और सुतली बम शामिल हैं। सरकार ने दावा किया है कि सामान्य पटाखों की तुलना में ग्रीन पटाखों से प्रदूषण में 30 फीसदी की कमी आएगी। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा है कि इस बार दिवाली पर देश भर में प्रदूषण कम करने वाले ग्रीन पटाखे बाजार में उपलब्ध होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here