अयोध्या मामला: 18 अक्टूबर तक पूरी हो सकती है सुनवाई, मध्यस्थता का रास्ता भी खुला

18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी करने की बात कहते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यह भी साफ़ किया कि इस मामले पर रोजाना सुनवाई बंद नहीं होगी।

0
52
ayodhya case

नई दिल्ली: अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई पर अब फैसले को लेकर उम्मीद जागी है। कोर्ट में रोजाना हो रही सुनवाई के दौरान बुधवार को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि 18 अक्टूबर तक इस मामले की सुनवाई पूरी होगी, सभी पक्ष इसमें प्रयास करें।

इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने मध्यस्थता के रास्ते को भी खुला रखा है। कोर्ट ने कहा कि अगर पक्षकार चाहते हैं तो मध्यस्थता का रास्ता भी अपना सकते हैं। इस बारे में वह अदालत को बता सकते हैं। पांच जजों की बेंच ने कहा कि उन्हें मध्यस्थता पैनल की ओर से चिट्ठी मिली है, जिसमें इस बात का जिक्र किया है कि कुछ पक्ष अभी भी मध्यस्थता करना चाहते हैं, अगर ऐसा है तो इसपर आगे बढ़ा जा सकता है।

18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी करने की बात कहते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यह भी साफ़ किया कि इस मामले पर रोजाना सुनवाई बंद नहीं होगी। इसके साथ ही कोर्ट ने इस बात का भी भरोसा दिया कि मध्यस्थता की प्रक्रिया पूरी तरह से गोपनीय रहेगी। कोर्ट ने सभी पक्षों से 18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी करने के लिए कोशिश करने की अपील की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here