Breaking News

असम कांग्रेस अध्यक्ष का प्रणब मुखर्जी को पत्र, RSS कार्यालय जाने से पहले पुनर्विचार की दी सलाह

Posted on: 05 Jun 2018 13:21 by Surbhi Bhawsar
असम कांग्रेस अध्यक्ष का प्रणब मुखर्जी को पत्र, RSS कार्यालय जाने से पहले पुनर्विचार की दी सलाह

नई दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी केने आरएसएस के कार्यकम में शामिल होने का न्योता स्वीकार कर लिया है. प्रणब मुखर्जी के इस फैसले ने कांग्रेस की नींद उड़ा दी है. उनके निमंत्रण स्वीकार करने के बाद से ही उनके और कांग्रेस के बीच विवाद चल रहा है.

हाल ही में एक नया विवाद सामने आया है असम के कांग्रेस अध्यक्ष रिपु पत्र लिखकर कहा है कि आरएसएस कार्यालय जाने के निर्णय पर एकबार फिर सोचें। रिपुन ने आगे लिखा है कि आप उस संस्था की कांफ्रेस में शामिल होने जा रहे हैं जिस संस्था ने आज तक राष्ट्रीय झंडे तक का आदर नहीं किया है।उन्होंने लिखा कि सामाजिक और धार्मिक असहिष्णुता बढ़ाने में संघ का प्रमुख हाथ रहा है। आपने अपना पूरा जीवन कांग्रेस की सेकुलरिज्म विचारधारा के प्रचार-प्रसार में लगा दिया और अब एक कट्टरविचारधारा वाले संगठन के कार्यक्रम में शिरकत कर रहे हैं। इसलिए आपको अपने निर्णय पर एकबार फिर से विचार करना चाहिए।

वहीं पार्टी के वरिष्ठ नेता एम वीरप्पा मोइली और सुशील शिंदे ने प्रणब मुखर्जी के आरएसएस मुख्यालय जाने के मामले को सही ठहराया है। दोनों नेताओं ने प्रणब का बचाव करते हुए कहा था कि उनका आरएसएस के कार्यक्रम में जाना गलत नहीं है क्योंकि वह एक धर्म निरपेक्ष  व्यक्ति होने के साथ बहुत अच्छे विचारक हैं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com