धारा 370 : हर तरफ से मुंह की खाने के बाद पाकिस्तान ने चला ये दाव

जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद दुनिया से मदद मांगने निकले पाकिस्तान को हर तरफ से मुंह की खानी पड़ी है। वहीं अमेरिका ने भी इस मामले में पाक का साथ छोड़ दिया है। ऐसे में पाक ने अमेंरिका पर दबाव बनाने के मकसद से एक नया दांव चला है।

0
78
imran khan

जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद दुनिया से मदद मांगने निकले पाकिस्तान को हर तरफ से मुंह की खानी पड़ी है। वहीं अमेरिका ने भी इस मामले में पाक का साथ छोड़ दिया है। ऐसे में पाक ने अमेंरिका पर दबाव बनाने के मकसद से एक नया दांव चला है।

दरअसल, कश्मीर मसले को लेकर पाकिस्तान ने चेतावनी दी है कि वह पश्चिमी सीमा (अफगानिस्तान से लगी पाक की सीमा) से सेना हटाकर पूर्वी सीमा पर तैनात कर सकता है। बता दे कि पाकिस्तान के इस कदम से अमेरिका को तालिबान के साथ उसकी शांति वार्ता मुश्किल में पडने का डर सता रहा है। जिसके चलते पाक अमेरिका पर दबाव बनाने की कोशिश में जुटा हुआ है।

अमेरिका में पाकिस्तान के राजदूत असद मजीद खान ने का ‘अफगानिस्तान के बदले कश्मीर‘ वाला पुराना दाव चला है। हांलाकि उन्होंने न्यू यॉर्क टाइम्स के साथ संपादकीय बैठक में ये भी कहा है कि कश्मीर और अफगानिस्तान दोनों अलग-अलग मुद्दे हैं। ऐसे में वह इन दोनो मुद्दों को जोड़ने की कोशिश नहीं कर रहे हैं।

न्यूयाॅर्क टाईम्स से बातचीत के दौरान मजीद ने लिखा कि पश्चिमी सीमा पर पा सेना तैनात है, लेकिन अगर भारत के साथ लगी सीमा पर हालात खराब होते हैं तो हमे दूसरे ढंग से सेना तैनात करना पड़ेगी। फिलहाल हम इस बात पर ही ध्यान दे रहे हैं कि पूर्वी सीमा पर क्या हो रहा है।

ब्ता दे कि अफगानिस्तान लंबे समय से युद्ध की आग में जल रहा है। वहीं अमेरिका वहां से अपनी सेना हर हाल में अपनी सेना वापस बुलाना चाहता है। जिसके चलते वह तालिबान के साथ शांति वार्ता के प्रयासों में जुटा हुआ है। इधर पाक का तालिबान अधिक प्रभाव है, ऐसे में शांतिवार्ता में पाकिस्तान की भूमिका अहम हैे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here