Indore में बोले Anup Jalota – में संत नहीं , एक साधारण इंसान हूँ ,शराब भी पीता हूँ और मुझे भी मस्ती करने दो यार

अनूप जलोटा (Anoop Jalota) एक गायक है जो की अधिकतर भजन एवं गज़ल गाते है। साल 2012 में इन्हें पद्मश्री पुरूस्कार (Padma Shri Award) दिया गया था। इन्हें भजन सम्राट भी कहा जाता है।

अनूप जलोटा (Anup Jalota) एक गायक है जो की अधिकतर भजन एवं गज़ल गाते है। साल 2012 में इन्हें पद्मश्री पुरूस्कार (Padma Shri Award) दिया गया था। इन्हें भजन सम्राट भी कहा जाता है। हाल ही में उनका एक इंटरव्यू लिया गया जिसमे उनसे कई तरह के सवाल किए गए है। इंटरव्यू के दौरान पद्मश्री अनूप जलोटा कहते है कि भजन गायक भी एक कलाकार होता है। लोगों का क्यों ऐसा सोचना है कि भजन गायक साइकिल पर ही घूम सकता है और मर्सिडीज (Mercedes) नहीं चला सकता है। अगर वो भजन गाता है तो कोई गलती कर दी क्या उसने ? उसे भी हक़ है अपनी ज़िन्दगी अपने तरीक़े से जीने का मज़े करने का।

अनूप जलोटा से सवाल किया गया कि जब भजनों के लिए लाउडस्पीकर लगाए जाते हैं, तो फिर अजान पर विवाद क्यों हुआ? इस सवाल के जवाब में वे कहते है कि अजान हो या हनुमान चालीसा दोनों ही पढ़ना और सुनना चाहिए बस उसका वॉल्यूम ऐसा रखें है जिससे किसी को कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए। मैंने भी तो दास्तान-ए-कर्बला गाया है। बड़े गायकों में से एक बिस्मिल्ला खां ने तो अजान रिकॉर्ड भी करी है बहुत ही अच्छी गाई है। अजान में सुर है और हनुमान चालीसा में लय है। हम भी कही भजन गाने जाते है तो 10:30 बजे कार्यक्रम बंद कर देते है।

अनूप जलोटा जीवनी, परिवार, विकी | Anup Jalota, Biography, Wiki in Hindi - Status | Quotes | Shayari | Wishes in hindi for Whatsapp, Fb

Also Read – 3 घरेलू नुस्खे ,जो टैनिंग से छुटकारा दिलाने में करेंगे आपकी मदद

जसलीन के मैटर को लेकर अनूप जलोटा कहते है कि शो में जो कुछ भी लोगों ने मेरे और जसलीन को लेकर देखा वो सबकुछ स्क्रिप्टेड था। जसलीन मेरी शिष्या थी उसने मुझे बोला था कि शो में हम एक कपल की तरह रहेंगे कुछ कंट्रोवर्सी करे बिना कोई अटेंशन नहीं देता है। जब मैं शो से बाहर आया तो देखा ये मामला तो हर जगह चर्चा में चल रहा है लोग हमारे बारे में गलत बात कर रहे है तब मैंने एक कॉन्फ्रेंस बुलवाई और उसमे कहा कि मैं और जसलीन के पिता हम दोनों मिलकर उसका कन्यादान करेंगे अब और क्या सफाई दूं।

इसके आगे वह कहते है कि मैं भजन गायक हूं कोई संत नहीं हूं। इसका ये मतलब नहीं कि मैं वैराग्य होकर हिमालय पर चला जाऊं। मैं भी मर्सिडीज चला सकता हूं क्यों मुझे भजन गायक होने की सज़ा दे रहे हो, मैंने कोई गलती थोड़ी ना कर दी है। भजन गाने के बाद मैं दारू भी पिता हूं अपनी मर्ज़ी का खाना भी खता हूं। मैं भजन गायक हूं तो क्या हुआ मैं भी ज़िन्दगी के मजे ले सकता हूं।

Also Read – कांच के टुकड़ो से बनी ड्रेस में Urfi Javed को देख फैंस को आए चक्कर, वीडियो वायरल