आनंद कुमार बोले, संघर्ष और सफलता की कहानी से भरी फिल्म है ‘सुपर-30‘

0
39

इंदौर। सुपर-30 पटना के संस्थापक आनंद कुमार शनिवार को इंदौर पहुंचे। यहां खंडवा रोड स्थित डीएवीवी परिसर के तक्षशिला सभागृह में आनंद कुमार के संघर्ष पर आधारित ऋतिक रोशन अभिनीत फिल्म सुपर-30 पर आनंद कुमार ने अपने विचार व्यक्त किए। इस दौरान वह सैकड़ों युवाओं से रूबरू हुए और आगे बढ़ने के कई टिप्स दिए। संस्था सार्थक के अध्यक्ष और पार्षद दीपक जैन ने बताया कि शनिवार सुबह 9.15 तक्षशिला सभा गृह में कार्यक्रम आयोजित किया गया।

इसमें सुपर-30 के संस्थापक आनंद कुमार, इंदौर सांसद शंकर लालवानी और भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष जीतू जिराती सहित कई अन्य लोग उपस्थित थे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सुपर-30 के संस्थापक आनंद कुमार ने कहा कि हिंदी मिडियम के 30 बच्चों को पढ़ाकर उनको अंग्रेजी पढ़ने वाले बच्चों से आगे पहुंचा दिया है। यह कहना गलत है कि हिंदी मिडियम पढ़ने वाले कुछ नहीं कर सकते हैं। इस बात को मैंने झूठला दिया है।

सुपर-30 से निकले अधिकतर बच्चे विदेशों में अच्छी-खासी नौकरी कर रहे हैंे। इतना ही नहीं, कई स्टूडेंस ने तो अपना घर भी बसा लिया है। फिल्म सुपर-30 को लेकर उन्होंने कहा कि मेरे और परिवार के सदस्यों के जीवन में कितना संघर्ष था, वो इस फिल्म में बताया गया है।

आनंद कुमार ने कहा कि फिल्म की शूटिंग शुरू होने से पहले ही कई बार फिल्म रोकने की धमकी मिली, लेकिन मेैं पीछे नहीं हटा। इतना ही नहीं, फिल्म के चक्कर में मेरे भाई पर हमले भी हो चुके हैं। इस दौरान उन्होंने स्टूडेंस को नसीहत देते हुए कहा कि सोशल मीडिया से दूर रहकर जमकर पढ़ाई करें, ताकि भविष्य बेहतर बनाया जा सके। इस दौरान फिल्म में आनंद कुमार के छोटे भाई रोल निभाने वाले नंदीशसिंह संधु ने भी अपने विचार व्यक्त किए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here