चीन सीमा पर लापता हुए भारतीय विमान का नहीं लगा पता | AN-32 Indian Aircraft missing near China Border…

0
42

तीन दिन पहले चीन सीमा के पास से लापता हुए भारतीय वायुसेना के विमान एएन-32 का अब तक कोई पता नहीं लगा। विमान की तलाश में बड़े स्तर पर सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है, बल्कि इस काम में वायुसेना, थलसेना और नौसेना भी लगी है। तीन दिन बाद भी कोई सुराग हाथ नहीं लगने पर इसरो के कार्टोसेट और रीसैट की मदद ली जा रही है। बताया जा रहा है कि विमान में सात अधिकारियों समेत 13 लोग सवार थे।

वायुसेना के प्रवक्ता ग्रुप कैप्टन अनुपम बनर्जी के मुताबिक घने जंगल, दुर्गम इलाके और खराब मौसम की चुनौतियों के बावजूद तीनों सेनाओं ने सर्च ऑपरेशन को और तेज कर दिया गया है। इतना ही नहीं, विमान की खोज में सुखोई-30 विमान को भी तैनात किया गया है।

सुखोई और सी-130जे रात में भी विमान की लोकेशन का पता लगाना जारी रहेगी। इसके अलावा सेना, आईटीबीपी और स्थानीय पुलिस के जवान भी लगातार अभियान चला रहे हैं। वायुसेना के एएन-32 मालवाहक विमान ने असम के जोरहट से अरुणाचल प्रदेश के मेनचुका के लिए उड़ान भरी थी। उड़ान भरने के 35 मिनट बाद ही विमान का ग्राउंड स्टाफ से संपर्क टूट गया था।

इधर, कांग्रेस ने बुधवार को इस मामले में रक्षा मंत्रालय पर सवाल उठाए। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि 2016 में इसी तरह अंडमान और निकोबार द्वीप से एएन-32 विमान लापता हो गया था, जिसका कोई सुराग नहीं मिला। इसके बावजूद रक्षा मंत्रालय ने कोई ठोस कदम क्यों नहीं उठाया। उन्होंने कहा कि लापता विमान में एसओएस सिग्नल यूनिट 14 साल पुरानी थी। जब 2009 में भारत और यूक्रेन के बीच एएन-32 विमानों के अपग्रेडेशन के लिए करार हो चुका था, तो अब तक इन्हें अपडेट क्यों नहीं किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here