Breaking News

हमेशा हक व ईमान के रास्ते पर चलें – सैयदना साहेब

Posted on: 12 Sep 2018 19:18 by Praveen Rathore
हमेशा हक व ईमान के रास्ते पर चलें – सैयदना साहेब

इंदौर। दाऊदी बोहरा समाज के 53 वे धर्मगुरु सैयदना आली कदर मुफ्फद्दल मौला ने मोहर्रम के अशरा मुबारका की पहली वाअज बुधवार को सैफीनगर मस्जिद में फरमाई।  मीडिया प्रभारी मजहर हुसैन सेठजी वाला ने बताया कि सैयदना साहेब ने सुबह 11 से दोपहर  1:30 बजे तक वाअज फरमाई।वाआज के प्रारंभ में सैयदना साहेब के शहजादा सैयदी हुसैन भाईसाहब ने कुरान शरीफ की तिलावट की।  देश विदेश से अब तक बड़ी संख्या में समाजवासी इंदौर आ गये हैं।  वाआज स्थल पर जाने के लिए सैफीनगर क्षेत्र के सभी झोनो के निर्धारित रास्तो पर सुबह सात बजे से लंबी कतारे लग गयी थी। इंदौर एवं देश विदेश से बड़ी संख्या में इंदौर आए बुरहानी गार्डस के सदस्य व्यवस्था की कमान संभाले हुऐ थे।

समाजवासी भी अनुशासित रह कर बुरहानी गार्डस को  सहयोग कर रहे थे। सैफीनगर मस्जिद, मस्जिद परिसर व आसपास के क्षेत्रों में हजारों की संख्या में समाजवासी उपस्थित थे। जनसंपर्क समिति के मीडिया विभाग के सदस्य मोहम्मद पीठावाला व बुरहानुददीन शकरुवाला ने बताया कि वाअज स्थल पर सैयदना साहेब के दीदार होते ही समाजवासी  मौला मौला मुफ्फद्दल मौला की सदाऐ बुलंद कर रहे थे। सैयदना साहेब ने वाअज मे फरमाया कि  हक व ईमान के रास्ते पर चलने से खुदा की रहमत व बरकत मिलती है। पानी हमेशा चुस कर धीरे पिये , तीन सांस में पानी पिये। पानी पीने से पहले बिस्मिल्लाह पढ़े । पानी खुदा की नेमत है इसकी कद्र कर, पानी पीने के बाद खुदा का शुक्र भी अदा करे। नमाज़ अदब के साथ अदा करे, नमाज़ अदा करते वक्त सजदा देने की जगह पर निगाह रखें। पैगंबर रसुलिल्लाह (स.स.) ने खाना खाने के अदब व सलीका इरशाद फरमाया है इसका पालन करें इससे सेहत दुरुसत रहती है
आले मोहम्मद की मोहब्बत कर उनकी सीरत पर चलें। करबला में तीन दिन के भूखे प्यासे शहीद हुए इमाम हुसैन पर सलवात पढ़ते रहे। सैयदना साहेब ने 52 वे धर्मगुरु डाॅ सैयदना मोहम्मद बुरहानुददीन मौला के नुरानी व दुआईया कलेमात की जिक्र फरमाई। सैयदना साहेब ने फरमाया की मोहर्रम की दो तारीख को इमाम हुसैन का काफिला करबला पहुँचा था। सैयदना साहेब ने इमाम हुसैन की शहादत पढ़ी इस अवसर पर अश्क बार आँखों से या हुसैन की सदा के साथ पूरजोश मातम हुआ। सैफीनगर मस्जिद से सैयदना साहाब की वाअज का सीधा आडियो वीडियो प्रसारण बुरहानीया सैफिया मवाईद, एम. एस.बी स्कूल  परिसर,  न्यूं  सैफीनगर मरकज़, बद्री बाग मरकज़, सियागंज, बोहरा बाखल, छावनी, नुरानी नगर, अम्मार नगर, गाँधी नगर, मसाकिन सैफिया, हसनजी नगर, राऊ, आदी स्थानो पर भी हुुुआ यहा भी बड़ी संख्या में समाजवासी उपस्थित थे।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com