तूफान ‘वायु‘ को लेकर इंदौर सहित 12 जिलों में अलर्ट जारी

0
131

अहमदाबाद। गुजरात में चक्रवाती तूफान ‘वायु‘ की गति भले ही धीमी पड़ गई, लेकिन खतरा अभी टला नहीं है। इसी के चलते मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। विभाग के मुताबिक खतरा टलने के बाद भी तूफान को गंभीर श्रेणी में रखा गया है, इसलिए गुजरात के पश्चिमी तटीय क्षेत्रों सहित महाराष्ट्र और मप्र के कुछ जिलोें में तूफान का असर 24 घंटे में देखने को मिल सकता है। विभाग द्वारा बताया जा रहा है कि अगले 24 घंटे में तूफान के दौरान तेज हवा के साथ जोरदार बारिश हो सकती है। इसी के चलते पश्चिमी मध्य प्रदेश के गुजरात और महाराष्ट्र से सटे सीमावर्ती जिलों में अलर्ट जारी किया गया।

जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश के झाबुआ, आलीराजपुर, रतलाम, धार, बड़वानी और इंदौर समेत 12 से अधिक जिलों में तूफान के चलते अलर्ट जारी किया गया। प्रशासन ने लोगों से तूफान के दौरान घर पर रहने की अपील की। तेज हवाओं के दौरान पेड़ और बिजली के पोल के नीचे न खड़े रहने की अपील की है। वहीं होमगार्ड, स्थानीय नगर निकाय व पुलिस को अलर्ट रहने के निर्देश जारी किया है।

तूफान का यू-टर्न, कच्छ में मचा सकता है तबाही

चक्रवाती तूफान वायु का खतरा एक बार फिर गुजरात की ओर बढ़ने लगा है। एक बार फिर अपनी दिशा बदलकर ये तूफान कच्छ से टकरा सकता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ओमान की ओर गया यह तूफान अगले 36 घंटे में वापस कच्छ की सीमा से टकराएगा। हालांकि राहत की बात ये है कि इसकी तीव्रता कम हो सकती है।

चक्रवाती तूफान गुजरात के पोरबंदर और द्वारका में भी बड़ा असर डालेगा। अनुमान है कि अगले 48 घंटे में यह पश्चिम की ओर बढ़ेगा इसके बाद यह फिर से उत्तर-पूर्व की ओर फिर से बढ़ सकता है। इसको लेकर गुजरात राज्य का प्रशासन अलर्ट पर है। तेज रफ्तार हवाओं के साथ-साथ भारी बारिश होने का अनुमान है। हालांकि राज्य सरकार के साथ-साथ केंद्र सरकार भी इस मामले पर नजर बनाए हुए है।

चक्रवाती तूफान वायु के खतरे को लेकर गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा था कि चक्रवात वायु अब ओमान की ओर मुड़ गया है लेकिन इसके बाद भी अगले 24 घंटे गुजरात के लिए अहम रहेंगे। इस दौरान स्थानीय प्रशासन और एनडीआरएफ की टीमें हाई अलर्ट मोड पर रहेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here