Breaking News

गुजरात के अक्षरधाम मंदिर की प्रतिकृति में विराजें “इंदौर का राजा”

Posted on: 14 Sep 2018 17:04 by Ravindra Singh Rana
गुजरात के अक्षरधाम मंदिर की प्रतिकृति में विराजें “इंदौर का राजा”
इंदौर: दस दिवसीय गणेशोत्सव में ‘इंदौर का राजा’ गुजरात के अक्षरधाम मंदिर की भव्यतम 151 फुट ऊंची प्रतिकृति में विराज चुके है। गुरुवार दोपहर 4  बजे गणेश जी की 13  फुट ऊंची भव्यतम मूर्ति की पूरी विधि विधान से स्थापना की गई। स्थापना के बाद भगवान् गणेश की आरती की गई जिसमे सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालुगण उपस्थित थे। गुरुवार का खास आकर्षण निमाड़ी गीत संध्या थी। शाम की आरती के बाद जब 100 लोगों की टीम ने एक साथ ढोल और ताशे की गर्जना की तब बड़ी दूर तक बस वहीं गर्जना सुनाई दे रही थी।
आलोक दुबे फाउंडेशन के संस्थापक और “इंदौर का राजा” गणेशोत्सव के आयोजक श्री आलोक दुबे ने बताया कि गुरुवार को भगवान् गणेश ‘इंदौर का राजा’ की स्थापना बड़ी धुमधान से हुई। हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने आकर दर्शन का लाभ लिया। शाम को सांस्कृतिक प्रस्तुतियां के अंतर्गत निमाड़ी गीत संध्या में जो प्रस्तुति हुई उसने सभी को अपनी ओर आकर्षित कर दिया। कल कपिल पुरोहित द्वारा सूफी और भजन संध्या दोंनो का  फ्यूज़न  होगा जो कि मुख्य आकर्षण रहेगा।
गुजरात के गांधीनगर स्थित अक्षरधाम मंदिर की प्रतिकृति का निर्माण बंगाल के 90 कारीगरों द्वारा दिन रात मेहनत करके किया गया है। गणेश जी की 13  फुट ऊंची भव्यतम मूर्ति पूरी तरह से इको फ्रेंडली है, जिसमे मिटटी तथा भूसे का उपयोग किया गया है। साथ ही आयोजन में लगने वाला सारे सामान का दोबारा उपयोग होगा, पूरी तरह थर्माकोल बनी आकृतियों को कंपनी वापस ले लेगी l इस प्रकार इस पूरे आयोजन को जीरो वेस्ट इको फ्रेंडली बनाया गया है l श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए 55 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए है। इसके साथ ही एम्बुलेंस और डॉक्टर्स भी मौजूद है। श्रद्धालुओं का 10 करोड़ का बीमा भी कराया गया है जो गणेश उत्सव से 10 दिन पहले और 10 दिन बाद तक रहेगा यानि कि एक महीने तक लागू होगा।
दिनांक : 13 सितंबर से 23 सितंबर
स्थान :- विजयनगर चौराहा मैदान
आयोजक :- आलोक दुबे फाउंडेशन

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com