अमिट यादें छोड़ गया इंदौर का पहला महिला लेखिका साहित्य समागम

0
99
Akhil Bharaiy Mahila Sahity Samagam-indore

वामा साहित्य मंच तथा घमासान डॉट कॉम द्वारा आयोजित देश का पहला महिला लेखिका साहित्य समागम अपनी अमिट यादें छोड़ गया। महिला साहित्य समागम की शुरुआत हुई थी 4 मार्च को और इसके बाद 5 मार्च को इसका समापन हुआ।

Akhil Bharaiy Mahila Sahity Samagam-indore

Read More:- Rati Saxena बोलीं, कविता को अब युद्ध के खिलाफ खड़ा कर दिया जाना चाहिए

समापन में देश की जानी-मानी लेखिका अचला नागर बॉलीवुड एक्ट्रेस कथा लेखिका नेहा शरद प्रसिद्ध लेखिका सुधा अरोड़ा ने अपने संबोधन में कई ऐसे अनुभव शेयर किए जिनको सुनकर सभी लोग स्तब्ध रह गए अचला नागर जी ने उनके बाबूजी अमृतलाल नागर से जुड़ी कई बातें बताई । वहीं शरद जोशी की बेटी नेहा शरद ने शरद जी से जुड़े हुए कई अनुभव बताए प्रसिद्ध लेखिका सुधा अरोड़ा ने भी बताया कि उन्होंने किस तरह से लिखना शुरू किया।

Akhil Bharaiy Mahila Sahity Samagam-indore

वामा साहित्य मंच घमासान डॉट कॉम के सफलतम आयोजन की सभी ने सराहना की और बाहर से आए सभी प्रतिभागियों ने भी कहा कि यह कार्यक्रम वाकई बेहद शानदार था इसके लिए उन्होंने वामा साहित्य मंच की पदमा राजेंद्र तथा ज्योति जैन सहित सभी सदस्यों को बधाई दी और उन्होंने घमासान डॉट कॉम को भी इस बात के लिए धन्यवाद दिया की मीडिया के माध्यम से उन्होंने साहित्य में एक नई ऐतिहासिक शुरुआत की है।

Read More:- प्रसिद्ध लेखिका Sudha Arora ने अपने लेखन से जुड़े अनुभव शेयर किए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here