दुश्मनों के छक्के छुड़ा देंगी यह राइफलें, रूस से हुआ समझौता

0
18
AK-203

पुलवामा हमले के बाद से ही भारत-पाकिस्तान के बीच लगातार तनाव जारी है. भारत सरकार भारतीय सेना को हर तरफ से मजबूत करने में लगी है। दुश्मनों को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए भारत सरकार अपने सैनिकों को विदेशी हथियार सौंपेंगी। इन विदेशी हथियारों से दु​श्मन भी कांप उठेंगें क्योंकि भारतीय सेना को अब दुनिया की सबसे खतरनाक राइफलें मिलने वालीे है। भारत सरकार  रूसी कंपनी के साथ मिलकर एके-47 राइफल का आधुनिक वर्जन एके-203 बनाएगी। इसके लिए रूसी कंपनी कंसर्न क्लानिश्नकोव के बीच करार किया गया है।

जानकारी के मुताबिक रूस की कंपनी भारत में ही ऑडिनेस फैक्ट्री के साथ मिलकर लगभग साढ़े सात लाख एके-203 राइफल बनाएगी। यह समझौता रक्षा मंत्रालय के उस प्रस्ताव के तहत किया गया है जिसमें मंत्रालय ने साढ़े छह लाख राइफल की खरीद के लिए ‘अभिरुचि पत्र’ मांगे थे। उस समय दोनों देशों के बीच एके-103 राइफल पर बात हुई थी लेकिन कुछ कारणों के चलते अनुबंध नहीं हो पाया था। हालांकि अब भारत सरकार और रूस के बीच 2018 का मॉडल एके–203 पर सहमति बन गई है।

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, ‘प्रधानमंत्री की कोशिश और रूस के सहयोग से अमेठी में बंद पड़े यूनिट में एके-203 मॉर्डन राइफल बनाने का काम शुरू होगा। यहां भारतीय सेना के लिए 7.5 लाख राइफल्स बनाए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here