फिर फंसे आजम खान, जमीन कब्जाने के मामले में 27 वां केस दर्ज

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और रामपुर से विधायक आजम खान की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। दरअसल, बीते दिनों प्रशासन ने सपा नेता द्वारा जमीनों पर किए गए कब्जे को लेकर भूमाफिया घोषित करते हुए उन पर केस दर्ज किए गए थे। इसी कड़ी में शनिवार को उन जमीन कब्जे के मामले को लेकर एक और केस दर्ज कर लिया गया है।

0
69

रामपुर। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और रामपुर से विधायक आजम खान की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। दरअसल, बीते दिनों प्रशासन ने सपा नेता द्वारा जमीनों पर किए गए कब्जे को लेकर भूमाफिया घोषित करते हुए उन पर केस दर्ज किए गए थे। इसी कड़ी में शनिवार को उन जमीन कब्जे के मामले को लेकर एक और केस दर्ज कर लिया गया है। जिसके चलते अब तक उनके खिलाल इन मामलों में 27 केस दर्ज हो चुके हैं।

गौरतलब है कि इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार को कार्रवाई करते हुए आजम खान के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग (पीएमएलए) के तहत केस दर्ज किया था। बता दे कि उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा आजम खान पर दर्ज की गई 26 26 एफआईआर पर संज्ञान लेते हुए ईडी ने केस दर्ज किया था।

बता दे कि रामपुर से सांसद आजम पर किसानों की जमीन हड़पने के मामले में अब तक 27 मामले दर्ज हो गए हैं। उन पर करोड़ो रुपए के जमीन घोटाले का आरोप है। इधर, उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग ने भी उन्हे रामपुर में लग्जरी रिसॉर्ट हमसफर के लिए सरकारी जमीन पर कब्जा करने को लेकर नोटिस थमाया था।

वहीं ईडी द्वारा आजम खान के निजी विश्वविद्यालय के खाते में विदेशी दान मिलने को लेकर कथित धनशोधन के आरोपों की जांच की जा रही है। ईडी ने रामपुर पुलिस से आजम खान के खिलाफ दर्ज मामलों की लिस्ट भी मंगाई थी।

इसके अलावा आजम की रामपुर स्थित मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी पर भी छापेमारी की कार्रवाई की गई थी। दरअसल, मदरसा आलिया ने उसके यहां रखे सैकड़ों साल पुराने ऐतिहासिक इस्लामिक ग्रंथ के चोरी होने की शिकायत दर्ज कराई थी। जिसके बाद छापेमारी में पुलिस ने उन किताबों को विश्वविद्यालय की लाइब्रेरी से बरामद किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here