हज से लाने वाले पवित्र पानी पर एयर इंडिया ने हटाई रोक

0
50

नई दिल्ली। एयर इंडिया ने हज पर जाने वाले यात्रियों को नोटिस देकर बताया था, की पत्रा 15 सितंबर तक उनकी फ्लाइट में हद से लाया जाने वाला पवित्र पानी लाने की इजाजत नहीं होगी । जमजम के पानी का मामला तूल पकड़ने के बाद विधायक अमीन पटेल ने उड्डयन मंत्रालय को चिट्ठी लिखी थी, अब एयर इंडिया ने अपना फैसला बदल लिया है । एयर इंडिया की सभी उड़ानों में जमजम का पानी लाया जा सकेगा। विमान के फैसले के बाद कई यात्री एयर इंडिया की उड़ानों का विरोध कर रहे थे। सोशल मीडिया पर भी बहुत कुछ लिखा जा रहा था हालात बिगड़ते देख विमान कंपनी ने फैसला बदल लिया है।

सुरक्षा के लिए नियमो में सख्ती

ट्रैवल एजेंटों और हज यात्रियों को जो नोटिस भेजा था, उसे वापस लेने के आदेश जारी हो गए हैं ।आज कंपनी की तरफ से कहा गया कि सऊदी अरब से लौटने वाले हज यात्री अपने सामान के साथ पवित्र पानी भी ला सकेंगे। हम इस भावना को समझते हैं की हज यात्री के लिए जमजम का पानी कितना जरूरी है यह भी कहा गया है की सुरक्षा को देखते हुए यात्रियों को अपने हैंडबैग में दवाइयां डॉक्टर की पर्ची बच्चों के खाने पीने का सामान को छोड़कर 100 मिलीमीटर से अधिक तरल पदार्थ लाने की अनुमति नहीं होगी यह सब कुछ पारदर्शी बैग में होगा।

ये आदेश दिया दिया था पहले

एयर इंडिया ने सभी ट्रेवल एजेंट और हज यात्रियों से कहा था कि पंद्रह सितंबर तक एयर इंडिया की फ्लाइट में आबे जमजम (पवित्र जल) नहीं लाया जा सकेगा। जिन उड़ानों में इस पर रोक लगाई गई है, वे जेद्दा-हैदराबाद, मुंबई-जेद्दा और जेद्दा-कोचिन हैं।एयर इंडिया के जेद्दा दफ्तर से जारी यह आदेश सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। हज पर जाने वालों और ट्रेवल एजेंसियों ने आदेश का विरोध किया था । आदेश के मुताबिक एयर इंडिया की उड़ानों में सीटों की कमी और यात्रा के दौरान उड़ान बदलने के चलते आबे जमजम पर रोक लगाई गई थी । इस खबर के बाद हज पर जाने वाले कई लोग, कांग्रेस विधायक अमीन पटेल से मिले। उनसे दखल देने की मांग की थी । पटेल ने नागरिक उड्डयन मंत्री के अलावा अल्पसंख्यक मामलों के केंद्रीय मंत्री को पत्र लिख कर आदेश वापस लेने की मांग की थी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here