आकाश विजयवर्गीय के बाद इस विधायक ने किया ‘कीचड़कांड’, वीडियो वायरल

0
76

कांग्रेस के विधायक नितेश राणे ने एक इंजीनियर के साथ मारपीट का एक मामला सामने आ रहा है. दरअसल, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे के बेटे और कांग्रेस विधायक नितेश राणे कणकवली के पास हाईवे का मुआयना करने गुरुवार सुबह पहुंचे थे.

मुआयना करने के दौरान नितेश राणे को जब हाईवे पर खड्डे नज़र आए तो वह भड़क गए. उन्होंने इंजिनियर प्रकाश शेडकर को मौके पर बुलाकर उनके साथ गाली-गलौज की और सिर्फ इतना ही नहीं नितेश ने वहां रखी कीचड़ से भरी बाल्टी को प्रकाश के ऊपर डलवा दिया. इसके बाद जिस पुल पर वह खड़े थे, उसी पुल से इंजीनियर को बांधने की भी कोशिश की.

बता दें कि, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे व विधायक आकाश विजयवर्गीय ने भी नगर निगम के एक अधिकारी के साथ मारपीट की थी. जिस वजह से उन्म्हे काफी मुश्किलों सामना करा पड़ा था. उनका वीडियो इतना ज्यादा वायरल हुआ की पीएम मोदी ने भी इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया दे दी थी.

इस मामले की सुनवाई भोपाल कोर्ट ने ख़ारिज कर दी थी. जिसके बाद उन्हें काफी समय जैन में भी रहना पड़ा था. इसी दौरान उनके जेल में होने से उनके कार्यकर्ताओं ने पुरे इंदौर शहर में विरोध प्रदर्शन किया. दो कार्यकर्ताओं ने अपनी जान देने की कोशिश भी की थी. जिसके चलते यह मामला और भी बढ़ गया था.

चार दिन के बाद आकाश को जेल से रिहा कर दिया गया. नगर निगम अधिकारी को बल्ले से पीटने के आरोपी आकाश को जमानत मिल गई थी, लेकिन कागजी प्रक्रिया पूरी नहीं होने के कारण वह बाहर नहीं आ सके थे। वह सारी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद आकाश विजयवर्गीय बाहर आए.

गौरतलब है कि, आकाश विजयवर्गीय को भोपाल की विशेष अदालत से जमानत मिली थी. 26 जून को इंदौर नगर निगम के अधिकारी को बल्ले से पीटने के आरोपी आकाश विजयवर्गीय पर उसी दिन मुकदमा दर्ज हुआ था और उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था. इस मामले में जब आकाश की जमानत याचिका इंदौर कोर्ट पहुंची, तो उनकी याचिका को खारिज कर दिया था. तब इंदौर कोर्ट ने कहा कि यह मामला विधायक से जुड़ा है, इसलिए इसकी सुनवाई करना उसके क्षेत्राधिकार में नहीं है.

जेल से बहार आने के बाद उनके समर्थकों ने उनका जोरदार स्वागत किया. जब आकाश घर पहुंचे तो फूल-माला से उनका स्वागत हुआ, आरती उतारी गई और मिठाई खिलाई गई. इतना ही नहीं पूरे रास्ते बैंड-बाजे भी बजते रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here