मालवा के लोग बहुत मीठे हैं उनमें बहुत आत्मीयता है: Achala Nagar  

0
17
Achala-nagar

अखिल भारतीय महिला साहित्य समागम (Akhil Bharatiya Mahila Sahitya Samagam)का आयोजन वामा साहित्य मंच तथा घमासान डॉट कॉम द्वारा किया जा रहा है इसमें बोलते हुए प्रसिद्ध लेखिका अचला नागर ने कहा कि अमृत लाल जी नागर की कालजई रचनाएं है वे आज भी पढ़ी जा रही हैं।

Akhil Bharaiy Mahila Sahity Samagam-indore

उन्होंने बताया कि किस तरह से अमृत लाल जी नागर से उन्हें विरासत में साहित्य की विरासत मिली उन्होंने साहित्य के साथ साथ फिल्म के लिए लिखा रेडियो के लिए लिखा।

Akhil Bharaiy Mahila Sahity Samagam-indore

अमृत लाल जी जो भी लिखते थे हो घर में सब को पढ़ कर सुनाते थे वहीं से उन्हें साहित्य की विरासत मिलना शुरू हुई आखिर क्यों और निकाह जैसे सुपरहिट फिल्में लिखी।

Read More:- Neha Sharad जी के आलेख का आज भी प्रमुखता से प्रकाशित होते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here