अफगानिस्तान की राजधानी काबुल की एक होटल में मुंबई हमलें जैसा मंजर देखने को मिला है। बहुमंजिला पांच सितारा होटल को आतंकियों ने चारों ओर से घेर लिया है। इसके बाद से ही होटल से खौफनाक दृश्य में परिवर्तित हो गया है। आतंकियों की दहशत इतनी खतरनाक है कि होटल में लोगों को खिड़कियों पर लटकना पड़ रहा है। इतना ही नही होटल में लगातार बारिश की तरह गोलियां चलाई जा रही है। तो किसी रूम से धुंए का गुबार उठ रहा है।

बता दें काबुल के पांच सितारा होटल में आतंकी हमला हो गया है। यह हमला भारत में साल 2008 में मुंबई के ताज होटल में किया गया था। इस अटैक से एक बार फिर से लोगों को मुंबई हमले के घाव ताजा हो गए है। इस घटना में अबतक 3 लोगों को मौत हो चुकी है तो 18 लोगों की घायल होने की खबर है।

हमलें का वीडियो सोशल मीडिया पर हो रहा है तेजी से वायरल

सोशल मीडिया पर आए वीडियो में होटल में लगातार गोलियां चलने की आवाजें आ रही हैं। लोग भाग रहे हैं और आस-पास अफरा-तफरी का माहौल है। लोग खिड़कियों से मदद की गुहार लगा रहे हैं। जान बचाने के लिए कुछ लोग खिड़कियों से लटक रहे हैं और कुछ लोगों को खिड़कियों से लटककर भागते हुए देखा गया है।

गौरतलब है कि, अफगानिस्तान की सुरक्षा एजेंसियां घटना स्थाल पर पहुंच गई है। पहुंचते ही होटल को चारों ओर से घेर लिया गया है। लगातार आतंकियों को चेतावनी जारी की जारी है। अफगानिस्तान मीडिया के से मिली जानकारी के अनुसार हमलावर होटल के अंदर गोलियां चलाते हुए घुसे थे। इसके बाद उन्होंने धमाका किया।

समाचार एजेंसी एएफपी ने बताया कि अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के उस होटल में चीनी व्यापारी और अधिकारी अक्सर आते-जाते रहते हैं। अब तक मिली जानकारी के अनुसार हमलावर होटल में मौजूद लोगों को बंधक बनाना चाहते हैं।

काबुल के इस होटल में ये विस्फोट अफगानिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता द्वारा ये कहे जाने के एक दिन बाद हुआ कि काबुल में चीनी राजदूत वांग यू ने तालिबान के उप विदेश मंत्री शेर मोहम्मद अब्बास स्टैंकजई से मुलाकात की है।

अफगानिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा था कि, ‘आज, काबुल में चीनी राजदूत वांग यू ने आपसी हित के मुद्दों पर चर्चा करने के लिए उप विदेश मंत्री शेर मोहम्मद अब्बास स्टैंकजई से मुलाकात की। चीनी राजदूत ने अफगानिस्तान में सुरक्षा स्थिति और इंतजामों पर अपनी संतुष्टि व्यक्त की।