Breaking News

भारत में एक ऐसी जगह जहां साथ में नहीं जा सकते भाई-बहन

Posted on: 28 Jun 2018 08:43 by Mohit Devkar
भारत में एक ऐसी जगह जहां साथ में नहीं जा सकते भाई-बहन

आज हम आपको भारत की एक ऐसी मान्यता के बारे में बताने जा रहे है, जिसे सुन कर आप हैरान हो जायेंगे. हम जिस मान्यता के बारे में बात कर रहे हैं, उसका सम्बंध एक मीनार से है. उत्तरप्रदेश के जालौन में स्थित 210 फिट उचे मीनार को लंका मीनार के नाम से जाना जाता है.

Image result for bhai behanइस मीनार की मान्यता है की यहा भाई-बहन साथ में नहीं जा सकते. आपको बता दें, की इस लंका मीनार में ऊपर जाने के लिए 7 बार इसके चक्कर लगाने पड़ते हैं, जो भाई-बहन नहीं कर सकतें. हिन्दू धर्म की मान्यता के अनुसार जब शादी होती है तब पति और पत्नी ही इस मान्यता को पूरा कर सकते है. यही वजह है के इस मीनार में भाई-बहन एक साथ नहीं जा सकते.

Related image

VIA

 

बता दें इस मीनार के लंका मीनार कहने के पीछे कारण यह है कि, मीनार के अंदर रावण के पूरे परिवार का चित्रण किया गया है. इसी वजह से इस मीनार को लंका मीनार के नाम से जाना जाता है.

Image result for lanka minar

via

इस मीनार का निर्माण मथुरा प्रसाद ने करवाया था. मथुरा प्रसाद रामलीला में कई दशकों तक रावण की भूमिका निभाते रहे. जानकारी के अनुसार मथुरा प्रसाद ने 1875 में रावण की याद में 210 फ़ीट इस ऊँचे मीनार का निर्माण करवाया और इसका नाम लंका मीनार रखा. इस मीनार को तैयार करने में लगभग 20 सालों का लम्बा समय लगा था. इस मीनार में 100 फ़ीट के कुम्भकर्ण और 65 फ़ीट के मेघनाथ की प्रतिमा लगायी गयी है. मीनार के सामने भगवान शंकर और चित्रगुप्त की मूर्ति लगी हुई है. इसे इस तरह से बनाया गया है कि रावण अपनी लंका से भगवान शिव के दिन रात दर्शन कर सकता है. मंदिर के परिसर में 180 फ़ीट लम्बे नाग देवता और 95 फ़ीट लम्बी नागिन गेट पर बैठी है. ये दोनो इस मीनार की रखवाली करते हैं.

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com