99 रुपये की ‘पतलून’ से बना 9000 करोड़ का ‘पेंटालून

0
83

नई दिल्ली। आपने ने पेंटालून का नाम सुना है ? और शायद खरीदारी भी कि होगी पर क्या आप को पता है 99 रुपये की ‘पतलून’ से कैसे बना 9000 करोड़ का ‘पेंटालून तो आपका जवाब हो सकता है ‘हां’ या ‘नहीं’ पर आइये हम आप को बताते है इसकी सक्सेस स्टोरी है

बिजनेस की दुनिया में किशोर बियानी ने सबसे पहले1987 में पैंटालूंस नामक कंपनी से शुरूआत की थी। इस कंपनी के नाम के पीछे का भी गजब का लॉजिक है। 1987 में मैंस वियर प्रा. लि. नामक कंपनी पैंटालून का नाम, ऊर्दू शब्द पतलून जैसा मिलता-जुलता था, इसलिए इसे चुना गया।

Image result for 99 रुपये की 'पतलून' से बना 9000 करोड़ का 'पेंटालून

आज भी अपने किसी फ्रेंचाइजी स्टोर में जाकर बैठ जाते हैं और लोगों की खरीददारी का पैटर्न देखते हैं। ये तरीका कुछ-कुछ वैसा ही है जैसे पुरातन काल में राजा अपनी प्रजा का हाल देखने के लिए जनता के बीच जाया करते थे।

Related image

इसी नाम से काम चल निकला। 1991 में गोवा में पेंटालून शॉप शुरू की। साल 1992 में शेयर बाजार से पैसा जुटाया और ब्रांड खड़ा कर दिया। आज इस कंपनी का 9 हजार करोड़ से ज्‍यादा का टर्नओवर है। किशोर बियानी को फोर्ब्‍स इंडिया 100 रिचेस्‍ट 2017 लिस्‍ट में 55वां स्‍थान मिला है। रीटल से उनकी कुल संपत्ति 2.75 बिलियन यूएस डॉलर बताई गई है।

Related image

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here