Breaking News

60 लाख की कार में 44 देशों की रोड ट्रीप पर निकले अमेरिका में रहने वाले भारतीय मूल के डॉक्टर दंपति

Posted on: 08 Jun 2018 08:25 by hemlata lovanshi
60 लाख की कार में 44 देशों की रोड ट्रीप पर निकले अमेरिका में रहने वाले भारतीय मूल के डॉक्टर दंपति

इंदौर: अमेरिका में रहने वाले भारतीय मूल के डॉक्टर राजेश कडाक्या पत्नी डॉ. दर्शना के साथ 44 देशों के सफ़र पर निकले। इस यात्रा को डॉक्टर दंपति ने हिंदुस्तान होम रन नाम दिया। अमेरिका में रहने वाले भारतीय मूल के डॉक्टर दंपति 18 देशों से गुजरने के बाद इंदौर शहर भी पहुंचे। अपने सफ़र के मकसद के बारे बताया कि हम दोनों डॉक्टर हैं। पिछले 37 सालों से एक साथ हैं लेकिन मुझे याद नहीं कि पत्नी के साथ कब एक दिन सुकून से बिताया। मेरे पास सब कुछ होने के बाद भी अच्छी यादों नहीं थी। इन्हीं यादों को सहेजने के लिए उम्र के इस दौर में हम सफ़र पर निकले।rajesh 4

घूम चुके कई देश

rajesh 3
इमरजेंसी ट्रामा डॉक्टर राजेश ने बताया कि मेरी वाइफ लंग्स स्पेशलिस्ट है। मैं हिमालयन आॅफरोडिंग में नेशनल विनर हूं। मेरा पैशन आॅफरोडिंग है। इसी ख्वाहिश को पूरा करने निकला हूं। 57 दिनों से घूम रहे हैं। 44 देशों की यात्रा पर निकले अब तक 18 देश धूम चुके हैं। डॉ. दर्शना ने बताया कि हमें ढाइ साल का समय लगा। 37 हजार किलोमीटर तय करने में। 28 मार्च को अमेरीका से सफर की शुरूआत करते हुए चाइना, रशिया, पेरिस, अमेरिका, कजाकिस्तान, मंगोलिया, नेपाल घूते हुए भारत आये हैं। इंदौर घूमते हुए अब मुंबई के लिए रवाना हुए।

60 लाख की कार

rajesh 1
डॉ. राजेश ने बताया कि हमारे लिए कार सबसे बड़ी समस्यां थी। हमने सफ़र के लिए लैंड क्रूजर,एचडीएच, राइट हैंड ड्राइवर गाड़ी को चुना। कार तैयार कराने में 60 लाख रूपए खर्च हुए। यह गाड़ी 4 फीट पानी में चल सकती है।

अपने घर आया

rajesh 6अलग-अलग देशों के ट्रैफिक नियम होते हैं। कहीं राइट हैंड ड्राइविंग है तो कहीं लेफ्ट। मुसीबतें तो आईं। लेकिन सफ़र का भी अपना मजा होता है। हम कई देश घूमते हुए भारत की बार्डर आये तो आंसू छलक पड़े। बार्ड पर लिखा देखा कि भारत में आपका स्वागत है। बार्डर पर कदम रखते हुए लगा अपने घर आ गया। हम हमारे पुस्तैनी गांव भी गाए। गांव में अस्पताल और अन्य सुविधाओं के लिए बड़ी धन राशि भी दी। अभी लंबा सफ़र बाकी है। इस पूरा होने में तीन महीने और लगेंगे।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com