6 सितम्बर को सवर्ण सामाज ने किया भारत बंद का आव्हान

0
32

फ़िलहाल सरकार की स्थिति इधर उधर खाई जैसी लग रही है। दलितों की नाराजगी को दूर करने के लिए मोदी सरकार द्वारा एसएसी/एससी एक्ट में संसोधन कर मूल स्वरूप में बहाल किया गया था। लेकिन इससे सरकार की परेशानी दूर होने की बजाए बढती नज़र आ रही है। दरअसल देश के कई प्रदेशों में सरकार के इस फैसले के खिलाफ सवर्ण समुदाय के लोग ना केवल विरोध कर रहे हैं बल्कि आगामी 6 सितंबर को भारत बंद का आव्हान भी किया गया है।

सवर्ण समाज का सबसे ज़्यादा विरोध मध्य प्रदेश में देखने को मिला, प्रदेश में केंद्रीय मंत्रियों से लेकर बड़े नेताओं का घेराव किया गया। सिर्फ इतना ही नहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को तो पथराव व चप्पल फेंके जाने जैसी घटनाओं का सामना तक करना पड़ा है। बता दें मंगलवार को ग्वालियर में एससी/एससी एक्ट के खिलाफ विशाल रैली बुलाई गई है और 6 सितंबर को ‘भारत बंद’ का ऐलान किया है।

मध्य प्रदेश में SC/ST एक्ट के खिलाफ सामान्य, पिछड़ा एवं अल्पसंख्यक वर्ग अधिकारी कर्मचारी संस्था (सपाक्स) के द्वारा शुरू किया गया आंदोलन पूरे राज्य में फैलता जा रहा है। मंगलवार को यानी कल 4 सितंबर को सपाक्स ग्वालियर में एक बड़ी रैली का आयोजन कर रहा है, जिसमें प्रदेश भर के लोगों को बुलाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here