27 साल बाद इंग्लैंड से हारा भारत, मगर इस खिलाड़ी ने रच दिया इतिहास

0
24

बर्मिंघम। आईसीसी विश्वकप के तहत खेले गए मैच में इंग्लैंड ने भारत को 31 रन से हरा दिया। इस मैच में रोहित शर्मा का शतक और विराट कोहली का अर्द्धशतक काम नहीं आ पाया। इंग्लैंड ने जॉनी बेयरस्टो के शतक के बाद गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन से भारत को 27 साल बाद पटकनी दी है। इंग्लैंड के 338 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम रोहित (102) के शतक के बावजूद पांच विकेट पर 306 रन ही बना सकी और उसे टूर्नामेंट में पहली हार का सामना करना पड़ा।

कप्तान विराट कोहली ने 66 रन का योगदान दिया, जबकि हार्दिक पंड्या ने 45 और एमएस धोनी ने नाबाद 42 रन बनाए। इधर, पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड के 50 ओवर में 337 रन बनाए थे। मैच में भारतीय तेज गेंदबाजों की जमकर धुनाई हुई। भारत की ओर से मोहम्मद शमी ने पांच और कुलदीप यादव तथा जसप्रीत बुमराह ने एक-एक विकेट लिया। इस मैच में मोहम्मद शमी ने 10 ओवर में 69 रन देकर 5 विकेट झटके।

मोहम्मद शमी ने इंग्लैंड के खिलाफ 5 विकेट झटककर इतिहास रचा दिया है। मोहम्मद शमी विश्व कप में लगातार तीन मैचों में 4 विकेट या उससे ज्यादा विकेट लेने वाले पहले भारतीय गेंदबाज बन गए हैं। विश्व कप में ओवरऑल गेंदबाजों की बात की जाए, तो मोहम्मद शमी पाकिस्तान के पूर्व ऑलराउंडर शाहिद आफरीदी के बाद लगातार तीन मैचों में 4 विकेट या उससे ज्यादा विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज हैं। इससे पहले पाकिस्तान बल्लेबाज और गेंदबाज शाहिद आफरीदी ने 2011 विश्वकप के लगातार 3 मैचों में 4 या इससे ज्यादा विकेट लिए थे।

इस विश्वकप में मोहम्मद शमी ने अफगानिस्तान के खिलाफ एक हैट्रिक भी ली है। मोहम्मद शमी भारत के दूसरे गेंदबाज हैं, जिन्होंने वनडे क्रिकेट के लगातार 3 मैचों में 4 या इससे ज्यादा विकेट लिए हैं। शमी से पहले नरेंद्र हिरवानी ने साल 1988 में लगातार 3 बार 4-4 विकेट अपने नाम किए थे। मोहम्मद शमी ने अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज के खिलाफ चार-चार विकेट चटकाए थे। वहीं इंग्लैंड के खिलाफ इस मैच में मोहम्मद शमी ने 5 विकेट लेकर इतिहास रच दिया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक शमी ने विश्वकप में सबसे तेज 30 विकेट पूरे करने का वल्र्ड रिकॉर्ड बना डाला। उन्होंने महज 10 पारियों में यह उपलब्धि हासिल की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here