MP में एक लाख 57 हजार महिलाओं को नि:शुल्क मिले ड्रायविंग लायसेंस

0
35

इंदौर: प्रदेश में महिलाओं को नि:शुल्क ड्रायविंग लायसेंस देने की योजना में अभी तक एक लाख 57 हजार 470 ड्रायविंग लायसेंस जारी किये गये हैं। इनमें से एक लाख 38 हजार लायसेंस महिलाओं के लिये लगाये गये विशेष पिंक लायसेंस शिविरों में बने और वितरित हुए हैं। यह योजना 28 दिसम्बर 2015 से लागू की गई है। इसमें अभी तक 2 लाख 27 हजार 604 लर्निंग ड्रायविंग लायसेंस भी बनाये गये हैं।

राज्य शासन के परिवहन विभाग द्वारा महिला सशक्तिकरण की दृष्टि से यात्री परिवहन में महिलाओं के लिये 11 से 16 नम्बर तक की सीट आरक्षित की गई है। महिलाओं की सुरक्षा के लिये यात्री वाहनों पर हेल्प लाइन नम्बर 1091 अंकित करवाया गया है।

नवजात शिशुओं को स्तनपान करवाने के लिये ड्रायवर के पीछे वाली सीट महिलाओं के लिये आरक्षित की गई है। सीट के तीन तरफ परदा लगाने के लिये भी परमिट शर्तों में निर्देश दिये गये हैं। इसी के साथ, स्कूल बसों में छात्राओं के बैठे होने पर महिला ड्रायवर/ महिला परिचालक अथवा शैक्षणिक संस्थान की एक महिला कर्मचारी अथवा परिचारिका का होना अनिवार्य किया गया है। परमिट में भी यह शर्त प्रभावशील की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here