सूर्य अस्त के साथ समाप्त हुआ छठ पर्व

0
17

नई दिल्ली । शुक्रवार को उगते सूर्य को अर्घ्य देने के बाद चार दिन तक चलने वाला छठ महापर्व का समापन हो गया है दो दिन से चल रहे है इस त्योहार को लेकर देशभर में काफी धूम थी। काशी, युमना, पटना, और गंगा घाटों में कल से छठव्रतियों का तांता लगा था। कल शाम डूबते सूर्य को अर्घ्य देकर उपासना की गई और आज सुबह भी आस्था का सैलाब उमड़ पड़ा। छठव्रतियों ने 36 घंटे के बाद अपना व्रत खोला।

जमशेदपुर, काशी, आगरा, मथुरा, गया, पटना, बंगाल, धनबाद में भी आज सुबह अर्घ्य के बाद छठ का समापन हुआ। शुक्रवार को व्रती महिलाओं ने उदय होते सूर्य देव को अर्घ्य दिया। हजारों की संख्या में महिलाओं ने घुटने तक पानी में खड़े होकर पूजा-अर्चना की तथा सजे-धजे सूपों को हाथ में लेकर सूर्यदेव को अर्घ्य दिया। पूजन के दौरान संपूर्ण वातावरण छठ मइया एवं सूर्यदेव की जय-जयकार से गुंजायमान रहा।

लोकपर्व डाला छठ पर गुरुवार को लाखों व्रतियों ने डूबते सूर्य को अर्घ्य दिया। संध्या बेला में पूरी काशी ही छठमय दिखाई पड़ी। गंगा-वरुणा तट से लेकर काशी के सभी कुंड, तालाब और पोखरे जनसमूह से पटे रहे। डीरेका स्थित सूर्य सरोवर पर भी अर्घ्य देने वालों की भारी भीड़ रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here