शिवराज अमेरिका यात्रा पर श्वेत पत्र जारी करें : मिश्रा

0
8

नई दिल्ली : प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता श्री के.के. मिश्रा ने अपनी एक सप्ताहकी निजी, पारिवारिक-व्यवसायिक बनाम सरकारी अमेरिका यात्रा से स्वदेश लौट रहे मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान से जानना चाहा है कि जब भारतीय संविधान के अनुसार विदेशी पूंजी से संबंधित अनुसूची-7, संघ सूची (केंद्र सरकार) का विषय है, तो यह स्पष्ट होना चाहिए कि उन्होंने विदेशी निवेश के नाम पर अब तक कितने विदेशी दौरे किये,उन दौरों के कारण राजस्व-कोष पर कितना भार आया, इन दौरों के माध्यम से विदेशी निवेशकों ने प्रदेश में कितना निवेश किया और उससे स्थापित उद्योगों के माध्यम से कितने युवाओं को रोजगार मिला? यही नहीं अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए श्री मिश्रा ने कहा कि राज्य सरकार, मुख्यमंत्री की संपन्न इस अमेरिका यात्रा को लेकर एक श्वेत-पत्र जारी करें, जिसमें यह भी स्पष्ट हो कि इस निजी, पारिवारिक-व्यवसायिक बनाम सरकारी यात्रामें सरकार का कितना व्यय हुआ, उनके साथ कितने लोग गये थे, क्यों गये, स्वदेश से कितने लोग लौटे हैं और मुख्यमंत्री किसे विदेश छोड़कर आये हैं और क्यों?

श्री मिश्रा ने कहा कि खुद सरकार ने प्रदेश विधानसभा में 22 जुलाई, 2010 को कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक डॉ. गोविंद सिंह के तारांकित प्रश्न क्रमांक 1434 के प्रत्युत्तर में तत्कालीन वाणिज्य, उद्योग और रोजगार मंत्री श्री कैलाश विजयवर्गीय ने इस बात को स्वीकारा था कि विदेशी पूंजी से संबंधित मामला, संघ सूची (केंद्र सरकार) का विषय है, राज्य सरकार का नहीं। इन परिस्थितियों में मुख्यमंत्री द्वारा अपनी निजी, पारिवारिक-व्यवसायिक यात्राओं को सरकारी खर्च पर अंजाम दिया जाना कितना न्यायसंगत है ?

श्री मिश्रा ने मुख्यमंत्री जी से यह भी जानना चाहा है कि जब उनके एक सप्ताह के इस अमेरिकी दौरे के दौरान सब कार्यक्रमों में शिरकत किये जाने के समाचार और छायाचित्र प्रदेश में सरकार के जनसंपर्क विभाग द्वारा प्रसारित/ प्रकाशित करवाये गये, तो फिर मुख्यमंत्री जी द्वारा एक पेरेंट्स डे (पालक दिवस) के कार्यक्रम में हिस्सा लेने की खबर जनसंपर्क विभाग ने प्रसारित/ प्रकाशित क्यों नहीं करवाई?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here