Breaking News

प्रणब किसे धता बताएंगे आज- संघ, बीजेपी या कांग्रेस, सुरेंद्र बंसल की टिप्पणी

Posted on: 07 Jun 2018 10:04 by Ravindra Singh Rana
प्रणब किसे धता बताएंगे आज- संघ, बीजेपी या कांग्रेस, सुरेंद्र बंसल की टिप्पणी

अब से कुछ ही घंटों में वह सब कुछ स्पष्ट हो जाएगा कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी आरएसएस प्रशिक्षण वर्ग के समापन कार्यक्रम में अपने बहुप्रतिक्षित उदबोधन में किसे धता बताएंगे। चूंकि प्रणब दा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रहे हैं और अभी उन्हें राजनीति से निवृत्त नहीं समझा जा सकता, इसलिए भी कि उन्होंने स्वयं प्रधानमंत्री बनने के अपने अंदर के कुलांचे जाहिर किये है। आज की शाम बहुत नाक, कान ,आंख खुल रखने की है।

यह इसलिए कि प्रणब मुखर्जी मुखरता से आरएसएस की आलोचना करते रहे हैं आज कांग्रेस में अर्धशतकीय पारी के बाद उंकिहि टीम के लोग उनकी कटु आलोचना कर रहे हैं । चूंकि वह समय नज़दीक है जब यह जाहिर होगा कि प्रणब मुखर्जी किस सोच और विचार को लेकर आरएसएस के कार्यक्रम में आये हैं ज्यादा कुछ कहना यहां अभी ठीक नहीं है।

लेकिन यह तय है कि प्रणब दा जहां अपनी हैसियत की सर्विसिंग करके नए रूप में प्रकट हो रहे है ऐसे उनके आरएसएस के कार्यक्रम में पदार्पण के कुछ ही मायने हैं एक – वे संघ के भीतर संघ को नसीहत दें दो- वे संघ को बचाकर बीजेपी को नसीहत दें तीन- वे अपनी ही पार्टी को राष्ट्रवाद की तरफ बढ़ने की प्रेरणा दें और चार – वे संयत और संयम से संतुलित शब्दों में अपरोक्ष रूप से राष्ट्र हित और लोक हित की बात करें और बिना किसी झमेले के वापस आ जाएं।

फिर भी प्रणब मुखर्जी अपने हस्व भाव से विचार से और भाषण से परोक्ष अपरोक्ष किसी न किसी को धता तो बात ही देंगे। वे संघ के मेहमान हैं इसलिए यह मुश्किल है कि वे सीधे संघ को घेरे लेकिन धर्मनिरपेक्षता पर वे बीजेपी को जरूर घेर सकते हैं यहां भी यह संभावना है कि एक गैर राजनीतिक कार्यक्रम में आकर वे कोई राजनैतिक बात नहीं करें । यह जरूर है कांग्रेस के जिन मित्रों ने उन्हें आरएसएस के कार्यक्रम में जाने के लिए नित नए उलाहने दिए हैं उन्हें सौ टका जवाब जरूर देंगे। चलिए हम ज्यादा विश्लेषण नहीं करते हुए सांझ होने की प्रतीक्षा करते हैं ।

सुरेंद्र बंसल

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com