दिवाली 2017: जाने कब है पुष्य नक्षत्र में खरीदारी का महायोग

0
44

नई दिल्ली। साल में ऐसे तो कोई बार पुष्य नक्षत्र आता है लेकिन कुछ मौकों पर आने वाला महा शुभ संयोग पुष्य नक्षत्र शुभ कार्यां के लिए बहुत ही श्रेष्ठ माना जाता है। इस शुभ योग में की गई खरीदारी अन्यन्त शुभ मानी मानी जाती है और आपके घर में धनवर्षा करती हैं। मान्यता है कि दिवाली पहले पुष्प नक्षत्र में खरीदारी अन्यन्त शुभ मानी मानी जाती है आइये जानते है कब है ‘पुष्य नक्षत्र’

महा शुभ संयोग ‘पुष्य नक्षत्र’

13 अक्टूबर को सुबह 7:46 प्रारम्भ

14 अक्टूबर को सुबह 6:54 समाप्त

पुष्य नक्षत्र में जरूर करें ये काम काम-
मान्यताओं के अनुसार, पुष्य नक्षत्र के दिन नए बही-खाते और पेन आदि खरीदकर व्यापारिक प्रतिष्ठान में रख जाते है । इस दिन आप सोने-चांदी के आभूषण भी खरीद सकते हैं।

Related imageघर में नहीं होगी पैसों की कमी
पुष्य नक्षत्र पर एकाक्षी नारियल का पूजन करने से घर में कभी भी पैसों की कमी नहीं रहती है। इस नारियल में ऊपर की ओर एक आंख का के जैसे निशान होता है इसलिए इसे एकाक्षी नारियल कहा जाता है। इसे साक्षात देवी मां लक्ष्मी का स्वरूप माना गया है। अगर रवि पुष्य नक्षत्र के दिन एकाक्षी नारियल की विधि-विधान से पूजा की जाए तो घर में धन और वैभव बना रहता है।

दिवाली से पहले करें ये उपाय कभी नहीं होगी धन की कमी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here