जानिये पुष्य नक्षत्र और शनिवार का है विशेष योग क्या है महत्व

0
20

नई दिल्ली। इस बार पुष्य नक्षत्र शुक्रवार से लेकर शनिवार की सुबह तक है शनिवार और पुष्य नक्षत्र का शुभ योग बन रहा है। शनिवार और पुष्य नक्षत्र का संयोग काफी अच्छा माना जाता है। शनिवार को पुष्य नक्षत्र पड़ने के कारण जिन लोगों के ऊपर शनि की साढ़ेसाती और ढय्या होती है तो ये कुछ उपाय करने से दूर हो सकते हैं। आइये जानें क्या है उपाय

यदि किसी के ऊपर शनि की साढ़ेसाती चढ़ी है तो पुष्य योग में शनि मंदिर में जाकर शनि की प्रतिमा पर सरसों का तेल चढ़ाएं।

शनि पुष्य योग में पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं  इस नक्षत्र में यह उपाय करने से परेशानियां दूर हो जाती है।

शनिवार पुष्य नक्षत्र में गरीबों को भोजन करवाएं और उन्हें कंबल,जूते-चप्पल, तेल और काले छाते का दान करें।

शनि पुष्य के शुभ योग में अपने पूजाघर में शनियंत्र की स्थापना करें ऐसा करने से शनि दोष दूर हो जाता है।

शनिवार को काले कपड़े में काले तिल का बांधकर गरीबों को दान करें इससे शनिदोष से संबंधी सारी परेशानियां दूर हो जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here