Breaking News

जानिये तकिये से होने वाली बीमार के बारे में और उस के संक्रमण

Posted on: 24 Oct 2017 11:23 by Ghamasan India
जानिये तकिये से होने वाली बीमार के बारे में और उस के संक्रमण

नई दिल्ली हम लोगों दिनभर की थकान के बाद रात को चेन कि नीद सोते है तो क्या आराम से सुबह हम रिफ्रेश होकर उठते हैं या कई बीमारियां आपकी सेहत पर हमला कर चुकी होती है। दरअसल सोने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले तकिये के बारे में बहुत कम ही लोग जानते हैं कि अगर इसका यूज ढंग से नहीं किया गया तो ये आपको बीमार तक कर सकता है। जी हां तकिया संक्रमण फैलाने का बड़ा स्‍त्रोत होता है। जानते हैं आखिर कैसे तकिया आपकी सेहत बिगाड़ सकता है।

मुहांसे
कई लोगों को तकिये में चेहरा छिपाकर सोने की आदत होती है पर ऐसे लोगों को शायद ही पता हो कि ऐसा करने से उन्हें मुहांसों की समस्या हो सकती है। तकिये में धूल और सिर का ऑयल चिपका हुआ होता है जैसे ही व्यक्ति कि स्किन इसके संपर्क में आती है तो चेहरे पर मुहांसे निकलने लगते हैं। मुहांसों से बचने के लिए उसके कवर को हफ्ते में 3 दिन बार जरूर धोयें।

Image result for मुहांसे

एलर्जी
इतना ही नहीं धूल में मौजूद कणों की वजह से व्यक्ति को एलर्जी और अस्थमा जैसी गंभीर रोग भी अपना शिकार बना सकते हैं। तकिये में मौजूद धूल और गन्दगी में नमी के कारण बैक्टीरिया पनपने लगते हैं जो सोते समय आपके नाक या मुंह के जरिए शरीर के अंदर पहुंच जाते हैं।जिसकी वजह से खांसी,अस्थमा जैसी कई दिक्कतें झेलनी पड़ सकती हैं। इस परेशानी से बचने के लिए समय-समय पर तकिये के खोल को धोकर धूप में जरूर सुखाएं।

Related image

पीठ में दर्द
अगर आपको आज भी अपने पुराने पिचके हुए तकिये से बेहद प्यार है तो आपनी आदत के साथ अपने तकिये को भी बदल डालें। आपकी ये आदत आपकी पीठ या गर्दन के दर्द का कारण बन सकती है। सोते समय गर्दन को सपोर्ट की जरूरत होती है, अगर तकिया गर्दन को ढ़ंग से सपोर्ट नहीं दे पाता तो उस दिशा में मुमकिन है कि आपका गर्दन का दर्द लंबे वक्त तक टिका रहे।

Related image

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com