Breaking News

छह दशक में एक ब्राण्ड बन गया नवनीत

Posted on: 11 Jun 2018 08:59 by Praveen Rathore
छह दशक में एक ब्राण्ड बन गया नवनीत

इंदौर। छह दशक पहले तिलक पथ पर हुकुमचंदजी गोयल ने नवनीत डेरी के नाम से कारोबार शुरू किया था। सही क्वालिटी और वाजिब दाम के अपने सिद्धांत पर कायम रहे गोयल ने शहर में अपने ब्रांड नवनीत की खास पहचान बनाई। यही कारण है कि उनकी तिलक पथ स्थित दुकान पर न सिर्फ मध्य क्षेत्र बल्कि पूर्व और पश्चिम क्षेत्र की कॉलोनियों से भी बड़ी संख्या में स्थायी ग्राहक बन गए थे, क्योंकि उनका नवनीत ब्रांड पर विश्वास जम गया था। उनके बेटे महेश गोयल पढ़ाई के करते-करते ही पिताजी के कारोबार में रुचि लेने लगे। कारोबार के साथ-साथ ही उन्होंने एमकॉम और एलएलबी किया। पिताजी के निधन के बाद से पूरी जवाबदारी महेशजी के ऊपर आ गई। परिवार और सामाजिक जिम्मेदारी निभाते हुए उन्होंने बखूबी सारे दायित्व निभाए।

महेशजी बताते हैं कि पिताजी के निधन के बाद घर-परिवार और कारोबारी जिम्मेदारी आने से काफी व्यस्त रहे। फिर भी सामंजस्य बिठा कर घर, कारोबार और समाज में पूरा समय देने की कोशिश की।

करीब बीस साल पहले एक दिन ऐसे ही बैठे-बैठे विचार आया कि डेयरी कारोबार के साथ कुछ नया भी करना चाहिए। बस, फिर क्या था, जुट गए अपने लक्ष्य के पीछे। वे बताते हैं कि डेयरी कारोबार के साथ-साथ करीब बीस साल पहले मैरिज गार्डन बनाने का विचार आया। इस कारोबार में चूंकि नया था, इसलिए अनुभव की कमी तो थी, लेकिन जुनून था, तो पीछे नहीं हटे और लगे रहे। काफी खोजबीन के बाद आखिर में पश्चिम क्षेत्र में राजेंद्र नगर में जमीन खरीदी और यहां आधुनिक सुविधाओं के साथ नवनीत मैरिज गार्डन शुरू किया। प्रारंभिक दौर में काफी दिक्कतें भी आई लेकिन धीरे-धीरे कर मैरिज गार्डन का काम पूरा हुआ। समय के साथ-साथ नवनीत गार्डन में हर साल सुविधाएं और डेकोरेशन में बदलाव करते रहे। आज यहां २० आधुनिक कमरे, एसी हॉल, मंदिर, स्टेज, भरपूर पानी सहित वे तमाम सुविधाएं मुहैया कराई गई, जो मेहमानों के लिए जरूरी है। वे बताते हैं, पिताजी के समय से नवनीत ब्रांड की खास पहचान है, वही ब्रांड आज नवनीत गार्डन के रूप में क्षेत्र में आईकॉन बन चुका है। वर्तमान में उनका बेटा प्रतीक गोयल पिता के मार्गदर्शन में कारोबार की कमान संभाले हुए है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com