छठ पूजाः अस्त होते सूर्य को करे अर्घ्य पूर्ण होगी हर मनोकामना

0
25

नई दिल्ली। बिहार और उत्तर प्रदेश का मुख्य महापर्व छठ शुरू हो चुका चार दिन दिनों तक चलने वाला ये पर्व प्रमुख रूप से  भगवान सूर्य की आराधना का पर्व कहा जा सकता हैं। 24 अक्टूबर को नहाय खाय के साथ शुरू हुआ ये पर्व सप्तमी को उगते सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही समाप्त होगा। इस पर्व में भगवान सूर्य की पूजा का काफी महत्व है। मुख्य पूजा आज और कल होगी। पहला अर्घ्य आज अस्त होते सूरज को दिया जाएगा। जानिए पूजा का समय

षष्ठी तिथि 25 अक्टूबर से सुबह 9:37 से शुरू हो गई, जो अगले दिन आज दोपहर 12:15 बजे तक रहेगी।

Image result for छठ पूजाषष्ठी तिथि को यानी आज व्रती कमर तक जल में उतरकर डूबते सूरज को अर्घ्य देंगे। इस दिन सूर्यदेव की पूजा का समय शाम 5:41 पर रहेगा।

Related image

अर्घ्य देने के लिए बांस के सूप में सभी प्रकार के फल रखकर उसे पीले कपड़े से ढ़क दें और डूबते सूरज को तीन बार अर्घ्य दें।

Related image

व्रतियों को छठ महापर्व के दौरान किसी भी फल का सेवन नहीं करना चाहिए और न ही उन्हें आरामदायक बेड पर सोना चाहिए।

Image result for छठ पूजा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here