Breaking News

चीन वैज्ञानिकों का बड़ा कारनामा, कृत्रिम तरीके से तैयार किए 2 बंदर

Posted on: 25 Jan 2018 10:56 by Kapil Mali
चीन वैज्ञानिकों का बड़ा कारनामा, कृत्रिम तरीके से तैयार किए 2 बंदर

चीन के वैज्ञानिकों ने हाल ही में एक और कारनामा कर दुनिया को चौंका दिया है. अब तक सामानों के डुप्लिकेट बनाने वाले इस देश ने बंदरों के डुप्लीकेट भी तैयार कर लिए है. चीनी वैज्ञानिकों ने इसे तैयार करने के लिए उसी तकनीक का इस्तेमाल किया है, जिस तकनीक से उन्होंने 20 साल पहले डॉली नाम की भेड़ का क्लोन तैयार किया था. उम्मीद की जा रही है कि यह टेक्निकल बैरियर क्रॉस करने के बाद अब इंसानों के भी क्लोन बनाए जा सकते है.

Image result for monkey clones

इन बंदरों का जन्म शंघाई स्थित चाइनीज एकेडमी ऑफ साइंसेज (सीएएस) इंस्टिट्यूट ऑफ न्यूरोसाइंस में हुआ. बंदरों का नाम झोंग झोंग और हुआ हुआ रखा गया है. झोंग का जन्म आठ हफ्ते पहले और हुआ का जन्म छह हफ्ता पहले हुआ था. इन्हें तैयार करने के लिए स्तनपायी जीव बंदरों, एपिस और मानवीय चीजों का सम्मिश्रण किया गया. फ़िलहाल इनका विकास सामान्य तरीके से हो रहा है.

Image result for monkey clones

दोनों बंदरों को बॉटल से दूध पिलाया जा रहा है. इनका क्लोन गैर भ्रूण कोशिका से तैयार किया गया. बंदरों का क्लोन बनाने की प्रकिया को सोमैटिक सेल न्यूक्लियर ट्रांसफर के जरिए किया गया, जिससे सेल को गर्भ में भेजा गया था.

Image result for monkey clones

इस मामले को लेकर चीनी रिसचर का कहना है कि इससे बंदरों के कारण बढ़ने वाली बिमारियों को रोकने में मदद मिलेगी. इस दौरान उन्होंने यह भी बताया कि इस प्रॉसेज को इंसानों पर एप्लाई करने का कोई इरादा नहीं है.

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com