क्या करोड़ों रुपए से बना यमुना एक्सप्रेसवे जेपी ग्रुप का है?: SC

0
8

नई दिल्ली। यमुना एक्सप्रेस वे बेचने को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने जेपी ग्रुप को बड़ा झटका दिया है। कोर्ट ने कहा कि यह ‘‘स्पष्ट किया जाना चाहिए’’ कि करोड़ों रुपये की लागत से बना छह लेन का यमुना एक्सप्रेसवे जेपी समूह का है या नहीं। दरअसल, समूह अब इसे बेचना चाहता है। ग्रुप अपनी प्रॉपर्टी को बेचकर 2500 करोड़ रुपए जुटाना चाहता है। इस प्रॉपर्टी को बेचने के लिए जेपी ने 4 हफ्ते का समय मांगा था।

लेकिन सुप्रीम कोर्ट से उन्हें वक्त नहीं मिला। अब जेपी ग्रुप को किसी भी हाल में 27 अक्टूबर को 2000 करोड़ रुपए जमा करने होंगे। अब 26 अक्टूबर को फिर से इस केस की सुनवाई होगी। जेपी एसोसिएट्स से प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ ने पूछा कि क्या करोड़ों रुपए से बना यमुना एक्सप्रेसवे जेपी ग्रुप का है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here