एेसा शहर जहां कुंवारी लड़कियां करती हैं राक्षस की पूजा!

0
26

‘सुआटा’ प्रथा
भारत में एक एेसा शहर भी है,कुंवारी लड़कियां करती हैं राक्षस की पूजा! एेसा उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड शहर में हाेता है। यहां कुंवारी लड़कियां  राक्षस की पूजा करती हैं। मान्यता है कि इस पूजा से कुंवारी लड़कियों को आत्मबल मिलता है और वह शारीरिक रूप से भी मजबूत होती हैं। बुंदेलखंड में इस प्रथा को ‘सुआटा’ कहा जाता है।

राक्षस ने रखी थी यह शर्त
यह वही राक्षस है, जिसका श्रीकृष्ण ने वध किया था। श्रीमद भागवत कथा में भी नरकासुर राक्षस का उल्लेख है। यह राक्षस कुंवारी लड़कियों का अपहरण करके उन पर तरह-तरह के अत्याचार करता था। तब राक्षस से बचने के लिए यह रास्ता निकाला गया कि कुंवारी लड़कियां उसकी पूजा करेंगी। पूजा से राक्षस खुश हो गया और उसने लड़कियों को छोड़ दिया। लेकिन उसने शर्त रखी थी कि उसकी हमेशा पूजा की जाएगी, नहीं तो वह किसी न किसी रूप में लड़कियों को परेशान करता रहेगा। बस तब से यह प्रथा चली अा रही है। वहीं यह भी माना जाता है कि यह पूजा अगर विवाहित महिलाएं करें ताे अशुभ हाेता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here