Breaking News

इन 5 जगहों पर रावण की होती है पूजा

Posted on: 25 Sep 2017 08:59 by Ghamasan India
इन 5 जगहों पर रावण की होती है पूजा

नई दिल्ली :नवरात्रि के खत्म होने के तुरंत बाद यानि 11 अक्टूबर को दशहरा का मनाया जाएगा। इस दिन राम ने रावण का वध किया था और लंका पर विजय प्राप्त कर अपहृत हुईं माता सीता को छुड़ाया था। इसी वजह से इस दिन का विजयादशमी भी कहा जाता है। पूरे देश में रावण का पुतला जलाया जाता है और भगवान राम की पूजा की जाती है। लेकिन भारत में ऐसी कई जगहें हैं, जहां पर भगवान राम की नहीं बल्कि रावण की पूजा की जाती है।

1. मध्य प्रदेश:-मध्यप्रदेश के विदिशा जिले में एक गांव है, जहां राक्षसराज रावण का मंदिर बना हुआ है। यहां रावण की पूजा होती है। यह रावण का मध्यप्रदेश में पहला मंदिर था।इन 5 जगहों पर भगवान राम की नहीं, रावण की होती है पूजा के लिए चित्र परिणाम2. कर्नाटक:-कोलार जिले में लोग फसल महोत्सव के दौरान रावण की पूजा करते हैं और इस मौके पर जुलूस भी निकाला जाता है। ये लोग रावण की पूजा इसलिए करते हैं क्योंकि वह भगवान शिव का परम भक्त था। लंकेश्वर महोत्सव में भगवान शिव के साथ रावण की प्रतिमा भी जुलूस में निकाली जाती है।
संबंधित चित्र3. उत्तर प्रदेश:-उत्तरप्रदेश के प्रसिद्ध शहर कानपुर में रावण एक बहुत ही प्रसिद्ध दशानन मंदिर है। कानपुर के शिवाला इलाके के दशानन मंदिर में शक्ति के प्रतीक के रूप में रावण की पूजा होती है तथा श्रद्धालु तेल के दिए जलाकर रावण से अपनी मन्नतें पूरी करने की प्रार्थना करते हैं।इन 5 जगहों पर भगवान राम की नहीं, रावण की होती है पूजा के लिए चित्र परिणाम4. राजस्थान:-जोधपुर जिले के मन्दोदरी नाम के क्षेत्र को रावण और मन्दोदरी का विवाह स्थल माना जाता है। जोधपुर में रावण और मन्दोदरी के विवाह स्थल पर आज भी रावण की चवरी नामक एक छतरी मौजूद है। शहर के चांदपोल क्षेत्र में रावण का मंदिर बनाया गया है।
संबंधित चित्र5. हिमाचल प्रदेश:-हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में शिवनगरी के नाम से मशहूर बैजनाथ कस्बा है। यहां के लोग रावण का पुतला जलाना महापाप मानते है। यहां पर रावण की पूरी श्रद्धा के साथ पूजा-अर्चना की जाती है। मान्यता है कि यहां रावण ने कुछ साल बैजनाथ में भगवान शिव की तपस्या कर मोक्ष का वरदान प्राप्त किया था।
हिमालय के रावण के लिए चित्र परिणाम

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com