Breaking News

इंदौर के ये गोल्डन बाबा नहीं है बप्पी लहरी से कम…

Posted on: 01 Sep 2017 06:13 by Ghamasan India
इंदौर के ये गोल्डन बाबा नहीं है बप्पी लहरी से कम…

इंदौर। हर इंसान अपनी खुद की अलग पहचान बनाना चाहता है, जिससे लोग उनकी ही लोग तरफ आकर्षित हो सके. ऐसा ही मामला हम आपको आज बताने जा रहे है, जहां शहर में रह रहे गोल्डन बाबा कि जिसके दोनों हाथों की अंगुलियों में मोटी-मोटी सोने की अंगूठियां, गले में रूद्राक्ष और सोने की भारी भरकम चैन है, वे बप्पी लहरी से कम नहीं लगते।

हम बात कर रहे हैं उस्ताद ‘मानसिंह’ उर्फ गोल्डन बाबा की, जो खुद को शहर का गोल्डन बाबा कहते हैं। वे अपने आप में ही कुछ खास हैं, जितने वो खास हैं उतनी ही उनकी गाड़ी भी खास है।

खुद को दिखाना है खास..
गोल्डन बाबा जहां से भी गुजरते हैं लोग उनके बारे में बात करने लगते हैं और करें भी क्यों ना? आखिर उनकी गोल्डन मेस्ट्रो है ही इतनी अनोखी। उनका गोल्डन बाबा बनने का जुनून गाड़ी पर साफ नजर आता है। गाड़ी के साइड ग्लास हों या फुटरेस्ट सभी को उन्होंने गोल्डन कर रखा है। वे करीब दो सालों से अपनी खास गाड़ी से इंदौर का भ्रमण करते हैं। उनकी इस गाड़ी में साइड मिरर से लेकर साइड स्टैंड तक पीतल पर सोने की पॉलिश किया हुआ है।

इस दिन हुई धुन सवार..
उस्ताद ने बताया कि वे एक बार हनुमान मंदिर के लिए मुकुट बनाने गए थे तब उन्होंने अपनी गाड़ी के साइड ग्लास में पीतल पर सोने की पॉलिश करवाकर लगाया। उसके बाद तो धुन ही सवार हो गई, फिर हैंडल ग्रिप, डिक्की, आगे का मडगार्ड, पीछे का मडगार्ड विथ नेम प्लेट, साइलेंसर, सीट कवर, पूरी बॉडी गोल्डन करवा ली। यही नहीं गाड़ी के नाम के पास शेर का खूबसूरत चित्र बनाकर लगवाया।

पत्नी की याद में बनवाई गाड़ी..
वो गाड़ी किसी भगवान के रथ से कम नहीं दिखती। वे कहते हैं उन्होंने यह गाड़ी अपनी पत्नी की याद में बनाई है। उनके घरवाले उन्हें गोल्डन गाड़ी बनाने के लिए मना करते थे, लेकिन उन्होंने उनकी बात नहीं मानी और पूरी गाड़ी को गोल्डन कर दिया। उन्हें अपनी गोल्डन गाड़ी से घूमने में जो मजा आता है, वो किसी और गाड़ी में नहीं आता। सुबह से वे उस गाड़ी पर सवार होकर अपने दोस्तों से मिलने निकल जाते है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com